निवेश के तरीके

कैसे एक फ्लैट बाजार में व्यापार करने के लिए?

कैसे एक फ्लैट बाजार में व्यापार करने के लिए?

बिहार : स्कूल में चल रही थी ‘शराब पार्टी’, पहुंच गई पुलिस, हेडमास्टर सहित 3 शिक्षक गिरफ्तार

नवादा। बिहार में जहां शराबबंदी कानून के कार्यान्वयन को लेकर विपक्ष सरकार पर लगातार निशाना साध रही है, वही सराकारी कर्मचारी भी इस कानून की धज्जियां उड़ाने में पीछे नहीं है। ऐसा ही एक मामला नवादा जिले के वारिसलीगंज थाना क्षेत्र के एक स्कूल से सामने आया जहां, शिक्षक शराब की पार्टी कर रहे थे और पुलिस पहुंच गई। पुलिस ने प्रधानाध्यापक (हेडमास्टर) समेत 3 शिक्षकों को गिरफ्तार किया है।

पुलिस के एक अधिकारी ने गुरुवार को बताया कि बुधवार की कैसे एक फ्लैट बाजार में व्यापार करने के लिए? शाम पुलिस को सूचना मिली कि वारिसलीगंज नगर परिषद क्षेत्र के सामबे गांव स्थित मध्य विद्यालय में कुछ लोग शराब की पार्टी कर रहे हैं।
इसी सूचना के आधार पर पुलिस स्कूल पहुंच गई और मौके से प्रधानाध्यापक सुनील कुमार सहित तीन शिक्षकों को शराब पीते गिरफ्तार किया गया।वारिसलीगंज के थाना प्रभारी पवन कुमार ने बताया कि गिरफ्तार लोगो में सुनील कुमार के अलावा रजनीकांत शर्मा और प्रमोद कुमार सिंह हैं। उन्होंने बताया कि ये दोनो दूसरे स्कूल के शिक्षक हैं।
थाना प्रभारी ने बताया कि घटनास्थल से शराब की एक खाली बोतल भी बरामद की गई है। तीनों शिक्षकों की चिकित्सकीय जांच के बाद शराब पीने की पुष्टि भी हुई है। पुलिस अब पूरे मामले की जांच कर रही है। उल्लेखनीय है कि राज्य में किसी भी प्रकार की शराब बिक्री और सेवन पर पूर्ण प्रतिबंध है।

MCD Polls: नगर निगम चुनाव में वोट देना क्यों है जरूरी, क्या हैं एमसीडी के काम? पढ़ें अपने हर सवाल का जवाब

अगले महीने दिल्ली नगर निगम के लिए मतदान और मतगणना होगी। ऐसे में बहुत से लोगों के मन में सवाल होगा कि एमसीडी चुनाव में वोट क्यों देना चाहिए। तो आपको अपने हर सवाल का जवाब इस लेख में मिल जाएगा।

MCD Polls: नगर निगम चुनाव में वोट देना क्यों है जरूरी, क्या हैं एमसीडी के काम? पढ़ें अपने हर सवाल का जवाब

देश में सर्वाधिक चहल-पहल वाला केंद्र शासित प्रदेश (यूटी) दिल्ली कई मायनों में महत्वपूर्ण है। देश की राजधानी में करीब दो करोड़ लोग रहते हैं। उनका जीवन केंद्र सरकार या निर्वाचित राज्य सरकार द्वारा उतना प्रभावित नहीं होता, जितना कि नगर निगम प्रभावित करता है। जन्म, मृत्यु प्रमाणपत्र हो या विवाह का पंजीकरण, स्वास्थ्य सेवाएं, प्राथमिक शिक्षा, कॉलोनी की मुख्य सड़कों से लेकर श्मशान घाटों तक के प्रबंधन तक काम निगम के जिम्मे है। निगम का वार्षिक बजट करीब 15,200 करोड़ है। इसके तहत 1,50,000 कर्मचारी काम करते हैं। इसलिए मतदान करना बहुत जरूरी है।

जन्म से लेकर श्मशान तक

नगर निगम का काम जन्म से लेकर श्मशान कैसे एक फ्लैट बाजार में व्यापार करने के लिए? घाट तक होता है। स्थानीय बाजार, सामुदायिक सेवाएं, स्कूल, पार्कों का रखरखाव, सामाजिक लाभ और शवों का दाह संस्कार तक निगम काम करता है।

स्कूल

एमसीडी से जन्म प्रमाणपत्र प्राप्त करने के बाद बच्चे को निगम के स्कूल में भर्ती करा सकते हैं, जहां शिक्षा और किताबें मुफ्त हैं। निगम 1535 स्कूल चलाता है।

स्वास्थ्य

निगम नौ बड़े अस्पताल चलाता है। इनके अलावा 15 प्रसूतिघर, 11 पॉलीक्लिनिक, 50 औषधालय और 98 मां व बच्चे के लिए देखभाल केंद्र।

पार्क

नागरिकों कैसे एक फ्लैट बाजार में व्यापार करने के लिए? के लिए निगम 15,229 पार्कों का प्रबंधन करता है, जहां बच्चे खेल सकते हैं और लोग टहल सकते हैं।

व्यापार

दुकानों के लिए व्यापार लाइसेंस जारी करता है। छोटे पैमाने के कारखाने के लिए भी लाइसेंस देता है।

सड़कें रोशन करने की जिम्मेदारी

निगम का काम गलियों औक सड़कों पर स्ट्रीट लाइट लगवाने का भी है। निगम 6,90,000 स्ट्रीट लाइट का प्रबंधन करता है, जिनसे घर रोशन रहता है। संपत्तिकर इकट्ठा कर विकास कराता है। पिछले साल 2,032 करोड़ रुपए जुटाए थे।

शादी या अन्य समारोह

शादी के लिए एमसीडी के पास सामुदायिक केंद्र हैं, जिन्हें ऑनलाइन बुक किया जा सकता है।

पार्किंग और सीवर की व्यवस्था

वाहनों के रखरखाव के लिए पार्किंग की व्यवस्था करता है। जलनिकासी के लिए सीवर आदि का भी इंतजाम करता है।

वरिष्ठ नागरिक

शहर के बुजुर्गों के लिए 94 केंद्रों को चलाता है, जहां मनोरंजन के साधनों के साथ टीवी और समाचार पत्र भी मिलते हैं।

मासिक पेंशन

पात्रों को मासिक पेंशन का भुगतान भी करता है। वार्ड पार्षद की मदद से पात्र इसका लाभ पा सकता है।

अंतिम संस्कार

अंतिम संस्कार के लिए करीब 58 घाट हैं। वर्ष 2020 में 1,42,789 मौत के मामले दर्ज किए गए।

पिछले निगम चुनाव में वोटर उदासीन

चार दिसंबर को 250 वार्डों में निगम चुनाव है, जिसमें करीब एक करोड़ 46 कैसे एक फ्लैट बाजार में व्यापार करने के लिए? लाख मतदाता हैं, लेकिन आमतौर पर लोगों का रवैया मतदान के प्रति उदासीन रहता है। 2019 के आम चुनाव में 60.6 फीसदी मतदान हुआ था, जबकि 2020 के विधानसभा चुनाव में 62.82 फीसदी। वहीं, 2017 और कैसे एक फ्लैट बाजार में व्यापार करने के लिए? 2012 के दो निकाय चुनावों में 53-54 फीसदी मतदान हुआ।

क्या हैं काम

- निगम में 35 प्रमुख विभाग हैं और शहर के लोगों की अधिकांश समस्याओं का समाधान यहीं पर होता है।
- कॉलोनी की सड़कों में गड्ढों की जांच
- जलनिकासी के मुद्दे
- पार्क का रखरखाव
- स्वच्छता, कचरा संग्रहण और निस्तारण
- अतिक्रमण की समस्या
- रोगों की रोकथाम
- बिल्डिंग परमिट और अवैध निर्माण रोकना
- लावारिस पशुओं का प्रबंधन
- करों और शुल्कों का प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से भुगतान (जैसे संपत्तिकर या हस्तांतरणकर)
- रेहड़ी-पटरी, स्वास्थ्य, व्यापार, फैक्टरी आदि लाइसेंस
- सामुदायिक हॉल की स्थापना और रखरखाव
- वंचित समुदायों को लक्षित करने वाले पुस्तकालय और राहत कार्य
- स्वास्थ्य केंद्र और प्राथमिक विद्यालय
- कानून से जुड़े कई काम
- स्ट्रीट लाइट आदि बिजली के काम
- 60 फीट से कम चौड़ी सड़कें, आदि कई कार्य निगम की जिम्मेदारी हैं।

श्रद्धा हत्याकांड: आफताब के घर होगा मर्डर सीन रीक्रिएट, नार्को टेस्ट कर 40 सवाल पूछे जाएंगे

नई दिल्ली: श्रद्धा की हत्या के सीन रिक्रिएट करने के लिए आफताब कैसे एक फ्लैट बाजार में व्यापार करने के लिए? के घर दिल्ली पुलिस पहुंची है। इससे पता लगाया जाएगा कि आफताब ने श्रद्धा की हत्या कैसे की और आफताब के खिलाफ सबूत जुटाएगी। उसके बाद कैसे उसके शरीर के 35 टुकड़े किए और फिर उन्हें कहां रखा। वहीं, मर्डर वेपन और श्रद्धा के सिर की तलाश अब भी जारी है।

आरोपी आफताब का सोमवार को नार्को टेस्ट किया जाएगा। पुलिस ने इसके लिए 40 सवालों की लिस्ट तैयार की है। पुलिस को उम्मीद है कि इस टेस्ट से उन्हें कुछ अहम जानकारियां मिल सकती हैं।

इससे पहले शनिवार को दिल्ली पुलिस के हाथ 18 अक्टूबर का CCTV फुटेज लगा है। इसमें सुबह चार बजे आफताब बैग ले जाते हुए देखा गया। पुलिस को शक है कि वह श्रद्धा के बॉडी के टुकड़ों को फेंकने गया था। इसके अलावा दिल्ली पुलिस ने महरौली वाले फ्लैट से सारे कपड़ों को जब्त कर लिया है। इनमें श्रद्धा के कपड़े भी शामिल हैं।

आफताब नार्को टेस्ट से उगलेगा श्रद्धा की मौत का सच! यहां पढ़ें उससे क्या-क्या पूछा जाएगा

नई दिल्ली : पूरे देश को दहला देने वाले श्रद्धा हत्याकांड में अभी तक पुलिस को कोई ठोस सबूत बरामद नहीं हुए हैं। आरोपी आफताब से सच उगलवाने के लिए पुलिस को नार्को टेस्ट से महत्वपूर्ण सुराग मिलने की उम्मीद है। दिल्ली पुलिस ने संभवत: सोमवार को होने वाले आफताब पूनावाला के नार्को-एनालिसिस टेस्ट के लिए 40 सवालों की लिस्ट तैयार की है। पुलिस ने सवालों की लिस्ट को तैयार करने के लिए एक्सपर्ट की मदद ले रही थी। पुलिस का कहना है कि आफताब के नार्को टेस्ट कैसे एक फ्लैट बाजार में व्यापार करने के लिए? की जरूरत इसलिए पड़ी क्योंकि पूछताछ के दौरान, आफताब लगातार अपने बयान बदल रहा है। वह बिना डरे पूरे आत्मविश्वास के साथ सवालों के जवाब दे रहा है। पुलिस को लग रहा है कि वह बार-बार बयान बदल कर जांच को भटकाने का काम कर रहा है। फोरेंसिक साइंस लेबोरेटरी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि नार्को-एनालिसिस में समय लगता है। नार्को टेस्ट से पहले कई तरह के टेस्ट किए जाते हैं। प्री-नार्को टेस्ट व्यक्ति के मेडिकल स्टैंडर्ड को तय करते हैं। इसमें साइकाट्रिस्ट्र का एनालिसिस शामिल होता है। एक अधिकारी ने बताया कि यह टेस्ट तभी हो सकता है जब व्यक्ति फिजिकली फिट होने के साथ ही मेंटली भी फिट होने को हो। यह एक क्रिटिकल टेस्ट होता है। टेस्ट करने वाली टीम पहले आफताब से बातचीत करेगी। इसके बाद फिर उसकी मानसिक स्थिति का पता लगाने के लिए अन्य टेस्ट किए जाएंगे।

श्रद्धा के साथ संबंध से लेकर मर्डर से जुड़े सवाल

पुलिस अधिकारी ने बताया कि आफताब से पूछे जाने वाले सवालों में श्रद्धा के उसके संबंधों को लेकर पूछताछ की जाएगी। जैसे वह श्रद्धा वॉकर से कैसे मिला। दोनों के बीच होने वाली बहस और झगड़ों के पीछे के कारण, उनकी आदतें और उनकी नापसंदगी शामिल हैं। इसके अलावा सवालों का एक सेट उसकी हत्या पर फोकस होगा। इसमें कैसे एक फ्लैट बाजार में व्यापार करने के लिए? मर्डर की कब और कैसे प्लानिंग बनाई। मर्डर से जुड़ी घटनाएं जैसे क्या उसने शरीर को टुकड़ों में काट दिया और यदि हां, तो उसे कहां-कहां डिस्पोज किया। एक पुलिस सोर्स ने कहा कि जांचकर्ता आफताब से श्रद्धा की हत्या के बाद के घटनाक्रम और लाइफ के बारे में भी सवाल करेंगे। जैसे मर्डर के बाद उसने कमरे की सफाई कैसे की, सबूतों को कैसे हटाया, किस चीज ने उसे बॉडी को काटने के लिए प्रेरित किया। कैसे एक फ्लैट बाजार में व्यापार करने के लिए? मर्डर के बाद वह किससे मिला या अपने यहां किसे बुलाया।

तलाशी के दौरान मेटल डिटेक्टरों का इस्तेमाल

इस बीच, पुलिस ने एक फीमर और घुटने के कैप के टुकड़े बरामद हए हैं। इसमें से एफएसएल को जीवित कोशिकाओं को निकालने की उम्मीद है। पुलिस ने तलाशी के दौरान मेटल डिटेक्टरों का इस्तेमाल किया। सूत्रों ने बताया कि यह पता लगाने के लिए था कि क्या शरीर को काटने के लिए इस्तेमाल किए गए हथियार या उपकरण भी वहां फेंके गए थे। पुलिस पीड़िता के शरीर के अंगों को बरामद करने की कोशिश में आफताब को दक्षिणी कैसे एक फ्लैट बाजार में व्यापार करने के लिए? दिल्ली में अलग-अलग जगहों पर लेकर गई। मुंबई की एक टीम ने श्रद्धा के दोस्त से उसके कथित हत्यारे के साथ उसके संबंधों के बारे में भी पूछताछ की। एक सूत्र ने बताया कि पुलिस टीम ने हिमाचल प्रदेश के तोश में एक गेस्टहाउस के मालिक से पूछताछ की है। यहां श्रद्धा और आफताब अप्रैल में आए थे। जांच टीम उत्तराखंड के माणा भी जाएगी, जहां श्रद्धा और आफताब गए थे।

Shraddha Murder Case: श्रद्धा ने हत्या से ठीक पहले दोस्त को किया था मैसेज, सामने आयी लास्ट चैट।

shraddha murder case

श्रद्धा मर्डर केस में घर दिन नए खुलासे हो रहे कैसे एक फ्लैट बाजार में व्यापार करने के लिए? हैं। आरोपी आफताब पूनावाला ने पुलिस पूछताछ में एक-एक कर बड़े खुलासे किए है। अब इस हत्याकांड में पुलिस ने बड़ा खुलासा किया है। दरअसल पुलिस को श्रद्धा वालकर की आखिरी इंस्टाग्राम चैट मिली है। जिसमें श्रद्धा ने अपने दोस्त करण को मैसेज किया था कि उसे कुछ बताना है लेकिन फिलहाल किसी काम में व्यस्त है।

श्रद्धा कैसे एक फ्लैट बाजार में व्यापार करने के लिए? के मैसेज करने के बाद करण ने दोबारा 18 मई को श्रद्धा को पूछ था कि “तुम्हे कुछ बताना था?” 24 सितंबर को करण ने फिर पूछा कि क्या तुम सुरक्षित हो? श्रद्धा की तरफ से इस मैसेज को रीड तो किया गया था लेकिन करण को इसका कोई जवाब नहीं मिला।

बाद में पता चला कि आफताब श्रद्धा के मोबाइल से इंस्ट्राग्राम एक्सेस कर रहा था। आफताब श्रद्धा का इंस्टाग्राम से उसके दोस्तों से बात कर रहा था।

shraddha murder case

गुरुग्राम में फेंकी थी आरी-ब्लेड

पुलिस पूछताछ के दौरान आफताब ने जांचकर्ताओं को बताया कि उसने आरी-ब्लेड को गुरुग्राम में डीएलएफ फेज-3 वन क्षेत्र में फेंका था। जिसका इस्तेमाल उसने वालकर के शरीर के 35 टुकड़ों में काटने के लिए किया था। अभी तक पुलिस को वालकर का कटा हुआ सिर और शरीर के अन्य अंग अभी तक नहीं मिला हैं। वहीं पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल हथियार मिल गई हैं।

क्या है मामला

12 नवंबर को दिल्ली पुलिस ने आफताब पूनावाला (28) को दक्षिणी दिल्ली के महरौली इलाके में किराये के अपने फ्लैट में श्रद्धा की हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया था। पुलिस ने खुलासा किया था कि आफताब ने अपनी गर्लफ्रेंड श्रद्धा की गला घोंटकर हत्या कर दी। साथ ही उसके शव के करीब 35 टुकड़े कर उन्हें जंगल में फेक दिया था। टुकड़ों को विभिन्न इलाकों में फेंकने से पहले उन्हें घर में 300 लीटर के फ्रिज में लगभग तीन सप्ताह तक रखा था।

रेटिंग: 4.48
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 492
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *