शुरुआती लोगों की मुख्य गलतियाँ

एक व्यापार प्रणाली तैयार करें

एक व्यापार प्रणाली तैयार करें

Wi Fi Service in Flight: यात्र‍ियों के ल‍िए बड़ी खुशखबरी!फ्लाइट में देख सकेंगे फ‍िल्‍म और वेब सीरीज

Wi Fi Service in Flight: यात्र‍ियों के ल‍िए बड़ी खुशखबरी!फ्लाइट में देख सकेंगे फ‍िल्‍म और वेब सीरीज

AirAsia and Sugarbox Partnership: अगर आप भी अक्‍सर फ्लाइट में सफर करते हैं तो यह खबर आपको खुश कर देगी. जी हां, अब आप आसमान में उड़ान भरने के दौरान फ‍िल्‍म और वेब सीरीज देखने का लुत्‍फ उठा सकते हैं. एयरलाइन कंपनी एयर एशिया (Air Asia) ने क्लाउड टेक्‍नोलॉजी कंपनी शुगर बॉक्स(Cloud technology company Sugar Box) के साथ साझेदारी में उड़ान के दौरान अपने सभी विमानों के भीतर वाईफाई सुविधा उपलब्ध करवाना शुरू किया है. कंपनी की तरफ से एक संयुक्त बयान में इस बारे में जानकारी दी गई.

1,000 से अध‍िक फ‍िल्‍में देखने को म‍िलेंगी
कंपनी एक व्यापार प्रणाली तैयार करें की तरफ से बताया गया क‍ि इससे एयर एशिया इंडिया (Air Asia) के जरिये यात्रा करने वाले लोगों को विमान में पहले से लगी प्रणाली के जरिये ओटीटी ऐप से बफरमुक्त सामग्री के साथ ही वेब सीरीज के एपिसोड, शॉर्ट फिल्में और 1,000 से अधिक भारतीय और अंतरराष्ट्रीय फिल्में देखने को मिलेंगी. शुगर बॉक्स के को-फाउंडर रोहित परांजपे ने बताया, ‘कई सुविधाओं वाले ‘airflix’ को शुरू करने के लिए एयर एशिया इंडिया के साथ साझेदारी करके हमें खुशी हो रही है.’

उन्होंने बताया कि 'airflix' का लाभ स्थानीय वाईफाई के जरिए बिना किसी अतिरिक्त शुल्क के सभी यात्रियों को मिलेगा. एयर एशिया इंडिया के मार्केट‍िंग ऑफ‍िसर सिद्धार्थ बुतालिया ने कहा, ‘अत्यंत प्रतिस्पर्धी बाजार में इस मंच का लाभ उठाते हुए उड़ान का विशिष्ट अनुभव देने के लिए हम उत्सुक हैं.’

कैसे काम करती है यह तकनीक
'Airflix' शुगरबॉक्स द्वारा तैयार क‍िया गया पेटेंटेड क्लाउड फ्रैगमेंट टेक्नोलॉजी(Patented Cloud Fragment Technology) से लैस है. यह फ्लाइट में सफर के दौरान हवाई यात्रियों को इंटरनेट की कनेक्टिविटी के बिना भी इंटरनेट जैसा डिजिटल एक्सेस देता है. Airflix एयर एशिया इंडिया के इन-फ्लाइट असिस्टेंट प्लेटफॉर्म के साथ इंटीग्रेटेड है. यह इसके साथ ही चलता है. आप फ्लाइट में पर्सनल डिवाइस का यूज करते हुए मेन्यू ब्राउज कर सकते हैं.

यहां उठाएं संगीत का आनंद

संगीत शिक्षा के क्षेत्र में फर्टाडोस एक अग्रणी नाम है। बेहतर संगीत शिक्षा और डिजिटल के सहयोग से तैयार किया गया संगीत लैब फर्टाडोस की पहचान बन गया है। फर्टाडोस संगीत शिक्षा केंद्र अब नवी मुंबईकरों की सेवा में शामिल हो गया है। फर्टाडोस (furtados) ने अपने गुणवत्तापूर्ण संगीत शिक्षा केंद्र 25 से अधिक शहरों और 250 से अधिक संगीत शिक्षकों की मदद से स्थापित किया हैं। किंडरगार्टन से लेकर अगले 12 वर्षों तक, के आयु वर्ग के बच्चों में संगीत की रुचि पैदा करने और उन्हें संगीत का पाठ पढ़ाने का काम फर्टाडोस स्कूल ऑफ म्यूजिक (Furtado's School Of Music) लगातार करता आ रहा है। फर्टाडोस स्कूल ऑफ म्यूजिक ने अंतर्राष्ट्रीय संगीत पाठ्यक्रम के अनुसार अपनी शिक्षा प्रणाली तैयार की है। फर्टाडोस स्कूल ऑफ म्यूजिक ने नेक्सस वुड मॉल के सहयोग से नवी मुंबई में अपना नया संगीत शिक्षा केंद्र शुरू किया है।

फर्टाडोस स्कूल ऑफ म्यूजिक की सह-संस्थापक धारिणी उपाध्याय ने कहा, "नेक्सस मॉल में आकर हम इस क्षेत्र के संगीत सीखने के इच्छुक बच्चों तक पहुंचने की कोशिश कर रहे हैं। यहां के बच्चों में स्थित प्रतिभा को खोज निकालने का मौका हमें मिला है। फर्टाडोस स्कूल ऑफ म्यूजिक लगातार संगीत शिक्षा को मुंबई के एक व्यापार प्रणाली तैयार करें प्रत्येक कोने कोने में सस्ती दर पर उपलब्ध कराने का प्रयास करता है। मुंबई के बाद, फर्टाडोस स्कूल ऑफ म्यूजिक ने नवी मुंबई एक व्यापार प्रणाली तैयार करें के नेक्सस मॉल में कदम रखा, जिससे इस क्षेत्र में संगीत की शिक्षा प्राप्त करने के लिए उत्सुक कई छात्रों को फायदा होगा। नेक्सस मॉल्स ने 'अरमान' नाम से एक पहल शुरू की है, जिसमें फर्टाडोस स्कूल ऑफ म्यूजिक भी भाग लेगा। इस पहल का उद्देश्य छात्रों की प्रतिभा को अवसर देने के लिए मॉल में कला, संगीत और नृत्य शिक्षा केंद्रों को प्रोत्साहित करना है। इस तरह स्थानीय स्तर पर समान विचारधारा वाले लोगों के समूह बनाना बहुत महत्वपूर्ण है। फर्टाडोस स्कूल ऑफ़ म्यूज़िक की सह-संस्थापक तनुजा गोम्स कहती हैं। इसके लिए सही उपकरण, शिक्षकों और स्थान की आवश्यकता होती है। हम छात्रों को सपने एक व्यापार प्रणाली तैयार करें देखने और उन्हें सच करने के लिए प्रेरित करते हैं, गोम्स ने कहा।

नवी मुंबई के नेक्सस मॉल में फर्टाडोस के संगीत शिक्षा केंद्र का उद्घाटन करने के लिए एक भव्य समारोह आयोजित किया गया। जिसमें प्रसिद्ध कलाकार, छात्र, शिक्षक एवं पूर्व छात्र सभी ने भाग लिया। कार्यक्रम का विशेष आकर्षण प्रसिद्ध तबला वादक ए. शिवमणि की उपस्थिति रही। राहील अजानी, नेक्सस सीवुड्स मॉल के केंद्र निदेशक ने राहिल अज्जानी ने कहा, 'नेक्सस सीवुड्स मॉल्स ने अनूठी गतिविधियों को शुरू करने और अपने आगंतुकों का मनोरंजन करने के लिए लगातार प्रयास किया है। नेक्सस सीवुड्स मॉल (Nexus Seawoods Mall) ने अरमान उपक्रम शुरू किया है, जो कला की दुनिया के कलाकारों को अपनी कला दिखाने के लिए एक एक व्यापार प्रणाली तैयार करें साथ लाने की पहल है। फर्टाडोस स्कूल ऑफ़ म्यूज़िक के कारण संगीत प्रेमी मॉल से जुड़ेंगे ऐसा हमारा विश्वास है।'

( जनता से रिश्ता इस खबर की पुष्टि नहीं करता है ये खबर जनसरोकार के माध्यम से मिली है और ये खबर सोशल मीडिया में वायरलहो रही थी जिसके चलते इस खबर को प्रकाशित की जा रही है। इस पर जनता से रिश्ता खबर की सच्चाई को लेकर कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं करता है।)

राज्य में ड्रोन उत्पादन इकाई की जल्द होगी स्थापना, इथेनॉल उत्पादन यूनिट की स्थापना के लिए 140 करोड़ का होगा निवेश

photo_2022-11-22_17-48-23.jpg

नई दिल्ली के प्रगति मैदान में छत्तीसगढ़ बिज़नेस समिट का आयोजन किया गया, जहां देश के विभिन्न हिस्सों से आए उद्यमी, निर्यातक और व्यवसायियों ने भाग लिया। इस मौके पर छत्तीसगढ़ शासन ने इथेनॉल व ड्रोन उत्पादन इकाई स्थापना के लिए दो एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए। इथेनॉल उत्पादन इकाई स्थापित करने के लिए एनकेजे बायोफ्यूल, दुर्ग के एक व्यापार प्रणाली तैयार करें मध्य एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए। यह कंपनी 140 करोड़ का निवेश करेगी। कंपनी की ओर से राजेश गौतम ने हस्ताक्षर किए। वहीं, दूसरा एमओयू ड्रोन व यूएवी मैनुफेक्चरिंग यूनिट के लिए डेबेस्ट रिसर्च प्राइवेट लिमिटेड के साथ किया गया। कंपनी की ओर से मनीष वाजपेई ने एमओयू पर हस्ताक्षर किया। यह कंपनी 5 करोड़ का निवेश करेगी व एक व्यापार प्रणाली तैयार करें 4500 यूनिट स्थापित करेगी।

बिज़नेस समिट में छत्तीसगढ़ के श्रम मंत्री शिव डहरिया ने छत्तीसगढ़ में औद्योगिक संभावनाओं की जानकारी देने के साथ ही उद्यमियों को छत्तीसगढ़ में निवेश के लिए प्रोत्साहित किया। बिज़नेस समिट में छत्तीसगढ़ से आई अधिकारियों की टीम ने इलेक्ट्रॉनिक्स, लघु वनोपज और हस्तशिल्प और हथकरघा आदि क्षेत्रों के व्यवसायियों, उद्यमियों और निर्यातकों को छत्तीसगढ़ में उद्योग, व्यापार की संभावनाओं की जानकारी देते हुए निवेश के लिए भी आमंत्रित किया।

उद्योग विभाग के विशेष सचिव हिमशिखर गुप्ता ने बताया, छत्तीसगढ़ सरकार के नई औद्यौगिक नीति 2019-2024 में उद्योगों की स्थापना से जुड़े नियमों को सरल बनाया है, जिसमें उद्योगों को विभिन्न स्वीकृतियां प्रदान करने के लिए एकल खिड़की प्रणाली लागू की गई है, कठिन प्रक्रिया का सरलीकरण किया गया है। कई प्रकार की रियायतें व सुविधाएं प्रदान की जा रही है। स्टार्ट-अप के लिए विशेष पैकेज प्रदान किए जा रहे हैं।

बिजनेस समिट में उद्योग विभाग, लघु वनोपज, हस्तशिल्प और हथकरघा, पर्यटन विभाग द्वारा छत्तीसगढ़ में संभावनाओं को लेकर जानकारी दी गई। इस मौके पर लघु वनोपज संघ के प्रबंध संचालक श्याम सुंदर बजाज, रुरल इंडस्ट्री के संचालक अरुण प्रसाद, सीएसआईडीसी के कार्यकारी संचालक अनिल श्रीवास्तव उपस्थित थे।

रेटिंग: 4.23
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 552
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *