स्वचालित ट्रेडिंग

सिल्वर ETF

सिल्वर ETF
एक्सपेंस रेश्यो
सिल्वर ETF का एक्सपेंस रेश्यो स्कीम के एयूएम (एसेट अंडर मैनेजमेंट) के एक फीसदी से ऊपर नहीं जा सकेगा।

HDFC MF ने लॉन्च किया सिल्वर ETF, जानिए इसकी खास बातें

FIFA World Cup 2022: इंग्लिश फुटबॉलर्स की पियक्कड़ पार्टनर्स, जमकर पी शराब, बिल देखकर चौंक जाएंगे आप!

© Moneycontrol द्वारा प्रदत्त HDFC MF ने लॉन्च किया सिल्वर ETF, जानिए इसकी खास बातें HDFC Asset Management Company ने 18 अगस्त को सिल्वर ईटीएफ (Silver ETF) लॉन्च करने का ऐलान किया है। यह ओपन-एंडेड सिल्वर ETF ईटीएफ है, जो सिल्वर के परफॉर्मेंस को ट्रैक करेगा। यह न्यू फंड ऑफर (New Fund Offer) 26 अगस्त को बंद हो जाएगा। एचडीएफसी एएमसी ने कहा है कि इस ईटीएफ का मकसद घरेलू बाजार में फिजिकल चांदी के परफॉर्मेंस के मुताबिक इनवेस्टर को रिटर्न प्रदान करना है। इसका मतलब है कि फ्यूचर में चांदी की कीमतें बढ़ने पर ईटीएफ का रिटर्न अच्छा रहेगा। इसके उलट अगर चांदी की कीमतों में गिरावट आती है तो सिल्वर ईटीएफ का रिटर्न भी घट जाएगा। यह भी पढ़ें : टाटा एमएफ ने लॉन्च किया Tata Housing Opportunities Fund, क्या आपको निवेश करना चाहिए? फिजिकल सिल्वर में इनवेस्ट करना और उसे सुरक्षित रखना इनवेस्टर के लिए चैलेंजिंग हो सकता है। एचडीएएफसी एएमसी का सिल्वर ईटीएफ निवेशक को डिजिटल फॉर्म में इनवेस्ट करने का मौका देता है। इसकी मदद से इनवेस्टर्स अपने पोर्टफोलियो को डायवर्सिफाय कर सकते हैं। बीते कुछ समय से म्यूचुअल फंड हाउसेज की दिलचस्पी सिल्वर ईटीएफ लॉन्च करने में बढ़ी है। सेबी के म्यूचुअल फंडों को सिल्वर ईटीएफ लॉन्च करने की इजाजत देने के बाद ऐसा हुआ है। सेबी ने पिछले साल सितंबर में म्यूचुअल फंडों को सिल्वर ईटीएफ लॉन्च करने की इजाजत दी थी। सेबी ने पिछले साल नवंबर में इसकी व्यापक गाइडलाइंस जारी की थी। सेबी की गाइडलाइंस के मुताबिक, सिल्वर ईटीएफ को अपने नेट एसेट का कम से कम 95 फीसदी सिल्वर और सिल्वर से जुड़े इंस्ट्रूमेंट में इनवेस्ट करना होगा। इसके अलावा फिजिकल सिल्वर 99.9 फीसदी प्यूरिटी के साथ 30 किलो के बार में होना चाहिए। इसे लंदन बुलियन मार्केट एसोसिएशन के मानकों के मुताबिक होना चाहिए। एचडीएफसी एएमसी के सीईओ और एमडी सिल्वर ETF नवनती मुनोत ने कहा कि यह फंड इनवेस्टर को अलग-अलग रिस्क-रिटर्न प्रोफाइल के आधार पर पोर्टफोलियो को डायवर्सिफायड बनाने में मदद कर सकता है। यह फंड इनवेस्टर को सिल्वर में निवेश के लिए प्रोत्साहित करता है। इंडस्ट्रियल एक्टिविटिज में सिल्वर का व्यापक इस्तेमाल होता है। उन्होंने कहा पोर्टेबल डिवाइसेज, इंडस्ट्रियल इक्विपमेंट, इलेक्ट्रिक व्हीकल्स, मोबिलिटी, एनर्जी प्रोडक्शन और टेलीकॉम में सिल्वर का इस्तेमाल होता है। फ्यूचर में सिल्वर की मांग बढ़ने की मजबूत संभावना है। इसकी वजह यह है कि ग्रीन टेक्नोलॉजी में भी इसका इस्तेमाल हो रहा है। यह ईटीएफ ऐसे निवेशकों के लिए सही है, जो सिल्वर की कीमतों में होने वाली वृद्धि का लाभ उठाना चाहते हैं। इससे पहले आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल म्यूचुअल फंड ने इस साल 5 जनवरी को सिल्वर ईटीएफ लॉन्च किया था। यह देश का पहला सिल्वर ईटीएफ था।

म्यूचुअल फंड कंपनियों में सिल्वर ETF लाने की मची होड़, निवेशकों के पास दांव लगाने का मौका

म्युचुअल फंड कंपनियों ने इस साल सिल्वर ईटीएफ (एक्सचेंज ट्रेडेड फंड) कैटेगरी में कई नई कोष पेशकशें की हैं। भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) द्वारा 2021 में पेश किए गए नव-सृजित परिसंपत्ति वर्ग की शुरुआत के बाद से म्यूचुअल फंड कंपनियों ने इसके जरिये 1,400 करोड़ रुपये की संपत्तियां जुटाई हैं। सेबी के पास उपलब्ध सूचनाओं के अनुसार, कोटक एसेट मैनेजमेंट कंपनी सहित म्यूचुअल फंड कंपनियों ने निवेशकों के लिए सिल्वर ईटीएफ के साथ-साथ सिल्वर ईटीएफ फंड ऑफ फंड्स के लिए बाजार नियामक के पास दस्तावेजों का मसौदा जमा कराया है।

अगर मालामाल होना है तो सिल्वर ETF में करें निवेश, सिर्फ 100 रुपए से बनाएं ढेर सारा पैसा

गोल्ड (Gold Investment) की तर्ज पर ही बाजार में सिल्वर ईटीएफ का भी ऑप्शन (Silver ETF) आ गया है। सिल्वर ईटीएफ के लिए दिसम्बर 2021 में बाजार नियामक सेबी (SEBI) ने मंजूरी दे दी है। सिल्वर ईटीएफ में चौंकाने वाली सबसे खास सिल्वर ETF बात है कि बेहद कम पैसों में आप इसमें निवेश कर सकते हैं। जानकर हैरान रह जाएंगे कि निवेश की शुरुआत सिर्फ 100 रुपए से हो सकती है।

अगर मालामाल होना है तो सिल्वर ETF में करें निवेश, सिर्फ 100 रुपए से बनाएं ढेर सारा पैसा

उत्तर प्रदेश में चांदी के आभूषण लोगों की पहली पसंद हैं। राजधानी लखनऊ में 29 जनवरी को एक किलो चांदी का भाव 61,100 है। आजकल चांदी में निवेश तेजी से बढ़ा है। पहले सोने और चांदी की फिजिकल होल्डिंग की परंपरा थी। पर अब लोग पैसे को तेजी से दोगुना करना चाहते हैं। निवेश के लिए नई जगहों की तलाश करते रहते हैं। शेयर बाजार, म्यूचुअल फंड और ETF (एक्सचेंज ट्रेडेड फंड्स) निवेश की पहली पसंद हैं। गोल्ड (Gold Investment) की तर्ज पर ही बाजार में सिल्वर ईटीएफ का भी ऑप्शन (Silver ETF) आ गया है। सिल्वर ईटीएफ के लिए दिसम्बर 2021 में बाजार नियामक सेबी (SEBI) ने मंजूरी दे दी है। और सिल्वर ईटीएफ में निवेश की नई गाइडलाइन (Silver ETF Investment Guidelines) जारी कर दी गई है। सिल्वर ईटीएफ में चौंकाने वाली सबसे खास बात है कि बेहद कम पैसों में आप इसमें निवेश कर सकते हैं। जानकर हैरान रह जाएंगे कि निवेश की शुरुआत सिर्फ 100 रुपए से हो सकती है।

पुराना सिलेंडर बदल कर लें मुनाफे वाला नया कंपोजिट एलपीजी सिलेंडर, जानें रेट और फायदे

सिल्वर ETF में निवेश क्यों?

एक रिपोर्ट के अनुसार आने वाला वक्त चांदी का है। जैसे अर्थव्यवस्थाएं मजबूत होंगी, चांदी की मांग आसमान छूने लगेगी। बढ़ती महंगाई वाले दौर में सोने के मुकाबले चांदी की कीमत ज्यादा बढ़ेगी। ऐसे में महंगाई से बचाव के साधन (हेजिंग टूल) के तौर पर चांदी बेहतर साबित होगी।

IBPS Calendar 2022-23: बैंक में नौकरी चाहिए तो आईबीपीएस परीक्षा कैलेंडर चेक करें, जानें कब होगी परीक्षा

सिल्वर ETF में निवेश का तरीका?

चाहे कोई भी ETF हो निवेश के लिए डीमैट अकाउंट जरूरी है। सिल्वर ईटीएफ के न्यू फंड ऑफर (एनएफओ) में पैसा लगा सकते हैं। मान लीजिए आप चक गए तो दूसरा आप्शन है। स्टॉक एक्सचेंज से खरीद सकेत हैं। आईसीआईसीआई प्रू, आदित्य बिड़ला सन लाइफ के सिल्वर ईटीएफ के एनएफओ आए थे पर उनकी अंतिम तिथि बीत गई है। अभी कुछ नए एनएफओ (न्यू फंड ऑफर) आने वाले हैं।

सबसे बड़ा फायदा अधिक लिक्विडिटी और कम स्टोरेज कॉस्ट।
निवेश को लेकर शुद्धता या गुणवत्ता की कोई चिंता सिल्वर ETF नहीं।
आर्थिक संकट में मददगार।
महंगाई को लेकर यह बेहतर तरीके से हेज उपलब्ध कराता है।
चांदी में निवेश से पोर्टफोलियो का ओवरऑल रिस्क होता है कम।
चांदी के भाव में तेजी की संभावना अधिक।
चांदी का इस्तेमाल सोलर पैनल, मेडिकल इंस्ट्रूमेंट्स, स्विचेज, सैटेलाइट आदि।

सिल्वर ETF में निवेश: 1% से कम रहेगा सिल्वर ईटीएफ में एक्सपेंस रेश्यो, 99.9% शुद्ध चांदी में होगा निवेश

बाजार नियामक सेबी सिल्वर ETF ने हाल ही में सिल्वर ETF (एक्सचेंज ट्रेडेड फंड) में निवेश के लिए दिशानिर्देश जारी किए हैं। इसके साथ ही निवेशकों को गोल्ड ETF की तरह चांदी में भी निवेश करने का मजबूत प्लेटफॉर्म मिल गया है। आइए जानते हैं क्या है इन दिशानिर्देशों में.

ट्रैकिंग एरर
फंड हाउसेज को ट्रैकिंग एरर 2% तक सीमित रखने का निर्देश दिया गया है। ट्रैकिंग एरर बेंचमार्क रिटर्न और स्कीम के रिटर्न का अंतर होता है। यह एरर बढ़ने पर निवेशकों को नुकसान हो सकता है।

बेंचमार्क
फंड हाउस 99.9% शुद्धता वाले 30 किलो वजन के चांदी के बार खरीदेंगे। सिल्वर ETF का बेंचमार्क लंदन बुलियन मार्केट एसोसिएशन पर चांदी की डेली स्पॉट प्राइस के आधार पर तय होगा।

अगर मालामाल होना है तो सिल्वर ETF में करें निवेश, सिर्फ 100 रुपए से बनाएं ढेर सारा पैसा

गोल्ड (Gold Investment) की तर्ज पर ही बाजार में सिल्वर ईटीएफ का भी ऑप्शन (Silver ETF) आ गया है। सिल्वर ईटीएफ के लिए दिसम्बर 2021 में बाजार नियामक सेबी (SEBI) ने मंजूरी दे दी है। सिल्वर ईटीएफ में चौंकाने वाली सबसे खास बात है कि बेहद कम पैसों में आप इसमें निवेश कर सकते हैं। जानकर हैरान रह जाएंगे कि निवेश की शुरुआत सिर्फ 100 रुपए से हो सकती है।

अगर मालामाल होना है तो सिल्वर ETF में करें निवेश, सिर्फ 100 रुपए से बनाएं ढेर सारा पैसा

उत्तर प्रदेश में चांदी के आभूषण लोगों की पहली पसंद हैं। राजधानी लखनऊ में 29 जनवरी को एक किलो चांदी का भाव 61,100 है। आजकल चांदी में निवेश तेजी से बढ़ा है। पहले सोने और चांदी की फिजिकल होल्डिंग की परंपरा थी। पर अब लोग पैसे को तेजी से दोगुना करना चाहते हैं। निवेश के लिए नई जगहों की तलाश करते रहते हैं। शेयर बाजार, म्यूचुअल फंड और ETF (एक्सचेंज ट्रेडेड फंड्स) निवेश की पहली पसंद हैं। गोल्ड (Gold Investment) की तर्ज पर ही बाजार में सिल्वर ईटीएफ का भी ऑप्शन (Silver ETF) आ गया है। सिल्वर ईटीएफ के लिए दिसम्बर 2021 में बाजार नियामक सेबी (SEBI) ने मंजूरी दे दी है। और सिल्वर ईटीएफ में निवेश की नई गाइडलाइन (Silver ETF Investment Guidelines) जारी कर दी गई है। सिल्वर ईटीएफ में चौंकाने वाली सबसे खास बात है कि बेहद कम पैसों में आप इसमें निवेश कर सकते हैं। जानकर हैरान रह जाएंगे कि निवेश की शुरुआत सिर्फ 100 रुपए से हो सकती है।

पुराना सिलेंडर बदल कर लें मुनाफे वाला नया कंपोजिट एलपीजी सिलेंडर, जानें रेट और फायदे

सिल्वर ETF में निवेश क्यों?सिल्वर ETF

एक रिपोर्ट के अनुसार आने वाला वक्त चांदी का है। जैसे अर्थव्यवस्थाएं मजबूत होंगी, चांदी की मांग आसमान छूने लगेगी। बढ़ती महंगाई वाले दौर में सोने के मुकाबले चांदी की कीमत ज्यादा बढ़ेगी। सिल्वर ETF ऐसे में महंगाई से बचाव के साधन (हेजिंग टूल) के तौर पर चांदी बेहतर साबित होगी।

IBPS Calendar 2022-23: बैंक में नौकरी चाहिए तो आईबीपीएस परीक्षा कैलेंडर चेक करें, जानें कब होगी परीक्षा

सिल्वर ETF में निवेश का तरीका?

चाहे कोई भी ETF हो निवेश के लिए डीमैट अकाउंट जरूरी है। सिल्वर ईटीएफ के न्यू फंड ऑफर (एनएफओ) में पैसा लगा सकते हैं। मान लीजिए आप चक गए तो दूसरा आप्शन है। स्टॉक एक्सचेंज से खरीद सकेत हैं। आईसीआईसीआई प्रू, आदित्य बिड़ला सन लाइफ के सिल्वर ईटीएफ के एनएफओ आए थे पर उनकी अंतिम तिथि बीत गई है। अभी कुछ नए एनएफओ (न्यू फंड ऑफर) आने वाले हैं।

सबसे बड़ा फायदा अधिक लिक्विडिटी और कम स्टोरेज कॉस्ट।
निवेश को लेकर शुद्धता या गुणवत्ता की कोई चिंता नहीं।
आर्थिक संकट में मददगार।
महंगाई को लेकर यह बेहतर तरीके से हेज उपलब्ध कराता है।
चांदी में निवेश से पोर्टफोलियो का ओवरऑल रिस्क होता है कम।
चांदी के भाव में तेजी की संभावना अधिक।
चांदी का इस्तेमाल सोलर पैनल, मेडिकल इंस्ट्रूमेंट्स, स्विचेज, सैटेलाइट आदि।

रेटिंग: 4.62
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 710
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *