बहुआयामी व्यापार मंच

के लिए 2023 बढ़ती क्रिप्टोकरेंसी

के लिए 2023 बढ़ती क्रिप्टोकरेंसी
दूसरे, कागजी पैसे से जुड़े खर्च आरबीआई की खाता-बही के एक महत्वपूर्ण हिस्से का इस्तेमाल कर लेते हैं. क्षतिग्रस्त धन आरबीआई के लिए नई मुद्राओं के मैनेजमेंट और प्रोसेसिंग के खर्च को और बढ़ा देता है. नियंत्रित डिजिटल मुद्रा के उपयोग से इन्हें कम किया जा सकता है.

TOP 10 CRYPTOCURRENCIES

क्रिप्टो बाजार का महत्व 2021 में प्रमुख ब्रांडों और वित्तीय संस्थानों के रूप में नाटकीय रूप से बढ़ गया, यहां तक कि राष्ट्रों ने भुगतान के लिए और कानूनी निविदा के रूप में क्रिप्टोकरेंसी को अपनाया। बाजार ने पिछले नवंबर में ही अनुमानित यूएस $ 3 ट्रिलियन के निशान को पार कर लिया था, लेकिन फिर कुछ हफ्तों बाद क्रिप्टो संपत्ति में भारी गिरावट आई। क्रिप्टो बाजार ने निवेशक समुदाय पर कहर बरपाते हुए गहरी नींद में प्रवेश किया। जून 2022 में क्रिप्टोकरेंसी ने एक तेज मोड़ लिया। जैसे ही दुनिया ने एक सफल और लाभदायक डिजिटल मुद्रा ढांचे पर अंकुश लगाने के लिए कदम उठाए, बाजार नुकसान और अस्थिरता की खाई में गिर गया। इसके बाद, कई निवेशकों ने अपने निवेश को बेचने और आगे वित्तीय नुकसान का सामना करने से बचने के लिए बाजार से भागने का फैसला किया। प्रमुख क्रिप्टोक्यूरेंसी, बिटकॉइन का गिरता बाजार प्रभुत्व प्राथमिक ट्रिगर्स में से एक था जिसने क्रिप्टो उपयोगकर्ताओं को डिजिटल एसेट इकोसिस्टम से भागने के के लिए 2023 बढ़ती क्रिप्टोकरेंसी लिए मजबूर किया। BTC की वर्तमान अस्थिरता अन्य altcoins को बढ़ने का रास्ता दे रही है और अंततः दुनिया की सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी बनने के लिए अपना स्थान ले रही है। यहां, हमने शीर्ष क्रिप्टोकरेंसी को सूचीबद्ध किया है जो बिटकॉइन की तुलना में अधिक लाभ उत्पन्न करने और निवेशकों को 2023 में अपने नुकसान की वसूली में मदद करने के लिए अनुमानित हैं।

के लिए 2023 बढ़ती क्रिप्टोकरेंसी

नई दिल्ली. रेटिंग निर्धारण करने वाली एजेंसी मूडीज इन्वेस्टर्स सर्विस ने 2022 के लिए भारत की आर्थिक वृद्धि का अनुमान पहले के मुकाबले 7.7 फीसदी से घटाकर शुक्रवार को 7 फीसदी कर दिया है. एजेंसी का कहना है कि घरेलू स्तर पर बढ़ती ब्याज दरें और धीमी वैश्विक वृद्धि भारत की आर्थिक गति को प्रभावित करेंगे.

यह दूसरी बार है जब मूडीज ने भारत की वृद्धि के अनुमान को घटाया है. इससे पहले मई में मूडीज ने 2022 के लिए भारत की आर्थिक वृद्धि दर 8.8 प्रतिशत रहने का अनुमान जताया था जिसे सितंबर में घटाकर 7.7 फीसदी कर दिया था.

2023 में घटकर 4.8 फीसदी रह जाएगी विकास दर

वर्ष 2023-24 के लिए वृहद वैश्विक परिदृश्य में मूडीज ने कहा, वर्ष 2022 के लिए भारत की वास्तविक जीडीपी वृद्धि 7.7 से घटकर सात फीसदी रह सकती है. उच्च मुद्रास्फीति, उच्च ब्याज दर और वैश्विक वृद्धि धीमी पड़ने का आर्थिक गति पर होने वाला असर हमारे पहले के अनुमान से कहीं अधिक रहेगा. मूडीज ने अनुमान जताया कि वृद्धि की गति 2023 में कम होकर 4.8 फीसदी रह जाएगी, फिर 2024 में यह बढ़कर करीब 6.4 फीसदी होगी.

आधिकारिक डिजिटल करेंसी का अर्थव्यवस्था पर क्या होगा असर? क्या तैयार है इंडिया

कागज के नोट छापने पर आरबीआई का बड़ा पैसा खर्च होता है. (फोटो- मनीकंट्रोल)

  • News18Hindi
  • Last Updated : October 27, 2022, 12:23 IST

हाइलाइट्स

बैंकनोट की परिभाषा और दायरे को बढ़ाने की के लिए 2023 बढ़ती क्रिप्टोकरेंसी आवश्यकता.
वीडीए (VDAs) से होने वाली कमाई पर 30 फीसदी का टैक्स लगेगा.
कोई भी VDA भारतीय या विदेशी मुद्रा के रूप में मान्यता प्राप्त नहीं हैं.

नई दिल्ली. अक्टूबर 2021 की बात है. तब भारतीय रिजर्व बैंक ने सरकार को एक खास प्रपोजल दिया था. इसके अनुसार, भारत सीबीडीसी (सेंट्रल बैंक डिजिटल करेंसी) के इस्तेमाल से दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यस्थाओं में से एक बनने के पथ पर आगे बढ़ेगा. सेंट्रल बैंक ने आरबीआई एक्ट, 1934, के “बैंकनोट” की परिभाषा के दायरे को बढ़ाने और पैसे को इलेक्ट्रॉनिक फॉर्मेट में उतारने की सिफारिश की थी.

अब राज्य वित्त मंत्री पंकज के लिए 2023 बढ़ती क्रिप्टोकरेंसी चौधरी ने लोकसभा में कहा है कि आरबीआई यूज केसेस को परख रहा है और चरणबद्ध तरीके से सीबीडीसी को लाने की योजना पर काम कर रहा है ताकि कोई दिक्कत न हो. देखा जाए तो CBDC (Central Bank Digital Currency) एक अच्छा ऑप्शन है, जिससे भारतीय अर्थव्यवस्था को सहारा मिलेगा. परंतु यहां सवाल यह है कि क्या भारत को सच में कैश की जगह किसी अन्य विकल्प की जरूरत है?

के लिए 2023 बढ़ती क्रिप्टोकरेंसी

धन महोत्सव

  • Post author: धन महोत्सव
  • Post category: क्रिप्टो
  • Reading time: 3 mins read

क्रिप्टोकरेंसी में बिटकॉइन की बढ़ती लोकप्रियता के साथ, आपके मन में यह सवाल आया होगा कि क्रिप्टोकरेंसी और बिटकॉइन के बारे में कहां से सीखें (Where to Learn Bitcoins Basics) और हमें बिटकॉइन के बारे में सबसे अच्छी जानकारी किस प्लेटफॉर्म पर मिलेगी, तो यह ब्लॉग पोस्ट आपके लिए सहायक हो सकती है।

बिटकॉइन के बारे में कहां से सीखें (Where to Learn Bitcoins Basics)

हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से क्रिप्टोकरेंसी और बिटकॉइन के बारे में डिटेल में जानने के लिए बेस्ट माध्यम बता रहे हैं। जहां से आप डिटेल में बिटकॉइन और क्रिप्टोकरंसी के बारे में सीखकर अपनी क्रिप्टो इन्वेस्टमेंट जर्नी आगे बढ़ा सकते हैं।

आप बिटकॉइन व क्रिप्टोकरेंसी कैसे खरीदें? के बारे में भी जान सकते हैं। आइए बिटकॉइन के बारे में सब कुछ जानने के लिए कुछ बेहतरीन संसाधनों के बारे में जानते है।

बिटकॉइन कोर्सेज (Bitcoin Courses)

आप बिटकॉइन के बारे में सब कुछ जाने के लिए विभिन्न ऑनलाइन फ्री और पेड कोर्स ज्वाइन कर सकते हैं। आप यहां से जानकारी प्राप्त करके क्रिप्टो ट्रेडिंग के बेस्ट एक्सचेंज पर निवेश शुरू कर सकते हैं।

जिसके माध्यम से आपको बिटकॉइन के बारे में मूल बातें, बिटकॉइन कैसे प्राप्त करें और उन्हें कैसे खर्च करें, बिटकॉइन माइनिंग, बिटकॉइन की अर्थव्यवस्था, क्रिप्टोकरंसी और क्रिप्टोग्राफी को बेहतर ढंग से समझने का मौका मिलेगा।

क्रिप्टोकरेंसी के प्रकार (Types of Cryptocurrencies)

मुख्य रूप से दो प्रकार की क्रिप्टोकरेंसी होती है सार्वजनिक और निजी (Public और Private Cryptocurrency)।

निवेश के लिए इन दोनों में अंतर जानना आपके लिए बहुत जरूरी है क्योंकि भविष्य में आपके निवेश का रिटर्न इसी पर निर्भर करता है।

आइए जानते हैं निजी और सार्वजनिक क्रिप्टोकरेंसी के बीच अंतर के बारे में।

सार्वजनिक क्रिप्टोकरेंसी (Public Cryptocurrency)

सार्वजनिक क्रिप्टोकरेंसी डिजिटल मुद्राएं हैं जिसके लेनदेन एक दूसरे से जुड़े हुए होते हैं और पूरी तरह से पारदर्शी होते हैं।

सार्वजनिक क्रिप्टोकरेंसी में यह पता लगाया जा सकता है कि मुद्रा किस-किस के पास से होकर गुजरी है, ताकि कोई कर (टैक्स) चोरी और काले धन की कालाबाजारी ना कर सके।

सार्वजनिक क्रिप्टोकरेंसी में आपका निवेश भी इसकी पारदर्शिता के कारण सुरक्षित माना जाता है।

पब्लिक और प्राइवेट क्रिप्टोकरेंसी के उदाहरण

क्रिप्टो करेंसी के बढ़ते चलन के चलते बाजार में हर दिन नई क्रिप्टोकरेंसी लिस्ट हो रही है।

हम आपको पब्लिक और प्राइवेट क्रिप्टोकरंसी के कुछ उदाहरण (Examples of public and private cryptocurrencies) बता रहे हैं जो आपके क्रिप्टो निवेश के लिए लाभदायक हो सकते है।

पब्लिक क्रिप्टोकरेंसी के उदाहरण

  1. बिटकॉइन (Bitcoin)
  2. ईथर (Ether)
  3. एक्सआरपी (XRP)
  4. कार्डानो (Cardano)
  5. टेलर (Taylor)
  6. लाइटकॉइन (Litecoin)

प्राइवेट क्रिप्टोकरेंसी के उदाहरण

  1. मोनेरो (Monero)
  2. दश (Dash)
  3. ज़कैश (Zcash)
  4. वर्ज (Verge)
  5. बीम (Beam)
  6. बाइटकोइन (Bytecoin)
  7. फ़िरो (Firo)
  8. बीटीसीएक्स इंडिया (BTCX India)
  9. डेल्टा (Delta)
  10. यूकोइन (Ucoin)

प्राइवेट क्रिप्टोकरेंसी की विशेषताएं (Features of Private Cryptocurrency)

  • उपयोगकर्ता की गोपनीयता बनी रहती है और डेटा सुरक्षित रहता है।
  • निवेशक सुरक्षा के लिहाज से निजी क्रिप्टोकरेंसी को बहुत अच्छा माना जाता है।
  • ये उपयोगकर्ता के निवेश और पते का खुलासा करने की अनुमति नहीं देते हैं।
  • निजी क्रिप्टोकरेंसी की तकनीक निजी ब्लॉकचेन के आधार पर चलती है।
  • निजी क्रिप्टोकरेंसी को प्राइवेट टोकन भी कहा जाता है।
  • निजी क्रिप्टोकरेंसी काले धन को बढ़ावा दे सकती है।
  • सरकार का पूर्ण नियंत्रण न होने से धोखाधड़ी की संभावना बढ़ जाती है।
  • इसलिए सरकार इसे नियंत्रित करना चाहती है और लोगों के लिए इसे आसान बनाना चाहती है।

क्रिप्टो करेंसी दो प्रकार की होती हैं, सार्वजनिक और निजी, दोनों के अपने फायदे और नुकसान हैं, इसलिए कोई भी निर्णय लेने से पहले उनके बारे में विस्तार से जान लेना चाहिए।

रेटिंग: 4.89
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 513
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *