ट्रेडिंग प्लेटफार्मों

Share Market में निवेश करने के तरीके

Share Market में निवेश करने के तरीके

Stocks vs Mutual Funds: निवेशक को कहां करना चाहिए निवेश जिससे मिले ज्यादा रिटर्न

फाइनेंशियल एक्सपर्ट्स का कहना है कि म्यूचुअल फंड लक्ष्य आधारित निवेश है. इसमें आपको पता है कि सालाना आधार पर अमूमन कितना रिटर्न मिलेगा. लॉन्ग टर्म में यह मल्टीबैगर साबित होता है.

Stocks vs Mutual Funds: निवेशक को कहां करना चाहिए निवेश जिससे मिले ज्यादा रिटर्न

रिटायरमेंट प्लानिंग के लिए इन्वेस्टमेंट स्कीम का रिटर्न महंगाई के मुकाबले ज्यादा होना चाहिए. वर्तमान में महंगाई दर 5-6 फीसदी के बीच है. ऐसे में अगर निवेश के परंपरागत साधनों में निवेश करते हैं तो नेट रिटर्न कम होगा. म्यूचुअल फंड में आपका पैसा शेयर बाजार में भी निवेश होता है जिसके कारण रिटर्न ज्यादा मिलता है और आपका नेट रिटर्न ज्यादा होगा.

TV9 Bharatvarsh | Edited By: शशांक शेखर

Updated on: Feb 08, 2022 | 8:17 AM

निवेशकों (Investors) के मन में एक सवाल बार-बार आता है कि उन्हें म्यूचुअल फंड (Mutual Funds) में निवेश करना चाहिए या फिर शेयर बाजार (Share market investment) में निवेश करना चाहिए. शेयर बाजार में निवेश का मुख्य रूप से दो तरीका है. पहला- खुद शेयर खरीदें और बेचें. दूसरा तरीका है कि म्यूचुअल फंड के जरिए शेयर बाजार में निवेश करें. निवेश का दोनों तरीका अच्छा है, अंतर बस इतना है कि डायरेक्ट शेयर खरीदने पर फायदे और नुकसान दोनों के लिए आप खुद जिम्मेदार होंगे. यह आपको तय करना है कि बाजार में कब एंट्री लेनी है, कौन सा शेयर खरीदना है, कितने दिन के लिए निवेश करना है. अगर म्यूचुअल फंड में निवेश करते हैं तो फंड मैनेजर आपके बदले ये तमाम फैसले लेता है.

फाइनेंशियल एक्सपर्ट्स का कहना है कि अगर आप भी शेयर बाजार की जानकारी रखते हैं. स्टॉक मार्केट पर आपकी अच्छी पकड़ है तो बाजार में डायरेक्ट निवेश करने पर कई गुना रिटर्न कमाया जा सकता है. अगर आप किसी Share Market में निवेश करने के तरीके के सलाह पर बाजार में निवेश करते हैं इससे कमाई भी होती है तो इन्वेस्टमेंट का यह तरीका ठीक नहीं है. ऐसे लोगों को म्यूचुअल फंड में इक्विटी स्टॉक्स में निवेश करना चाहिए जहां शानदार रिटर्न मिलता है. म्यूचुअल फंड के मैनेजर काफी स्किल्ड होते हैं. उन्हें पता होता है कि पोर्टफोलियो किस तरह डिजाइन करना है. किस सेक्टर में, किस कंपनी में कितना निवेश करना चाहिए, उन्हें Share Market में निवेश करने के तरीके इसकी पूरी जानकारी होती है.

पोर्टफोलियो डायवर्सिफाइड रखें

फाइनेंशियल एक्सपर्ट्स की सलाह होती है कि पोर्टफोलियो को हमेशा डायवर्सिफाइड रखें. इससे रिस्क कम Share Market में निवेश करने के तरीके रहता है. पोर्टफोलियो को डायवर्सिफाइड रखने से रिस्क फैक्टर घटता है. बाजार में किसी तरह की हलचल का आपके इन्वेस्टमेंट पर कम असर होता है. कोई इंडिविजुअल जब किसी खास सेक्टर के खास स्टॉक में निवेश करता है तो उसका रिस्क ज्यादा होगा. वहीं, म्यूचुअल Share Market में निवेश करने के तरीके फंड में आपके पैसा अलग-अलग सेक्टर के अलग-अलग स्टॉक्स में निवेश किया जाता है. इस तरह सेक्टर डायवर्सिफिकेशन के साथ-साथ स्टॉक डायवर्सिफिकेशन का भी लाभ मिलता है.

सही स्टॉक सलेक्शन पर मल्टीबैगर रिटर्न

निवेशकों को इस बात को समझना चाहिए कि अगर आप खुद से शेयर बाजार में निवेश करते हैं तो राइट स्टॉक पिक होने पर आपको मल्टीबैगर रिटर्न मिल सकता है. लेकिन, म्यूचुअल फंड आपको इतने कम समय में मल्टीबैगर रिटर्न नहीं देगा. हालांकि, इस बात को भी ध्यान में रखना चाहिए कि खुद से निवेश करने पर आपका इन्वेस्टमेंट कई गुना घट भी सकता है, म्यूचुअल फंड के साथ ऐसा नहीं होता है. आसान शब्दों में खुद से निवेश करने पर ज्यादा रिटर्न के साथ ज्यादा रिस्क भी जुड़ा है. म्यूचुअल फंड बैलेंस्ड रिटर्न के साथ-साथ बैलेस्ड रिस्क का भी भरोसा देता है.

म्यूचुअल फंड लक्ष्य आधारित निवेश

फाइनेंशियल एक्सपर्ट्स का कहना है कि म्यूचुअल फंड लक्ष्य आधारित निवेश है. इसमें आपको पता है कि सालाना आधार पर अमूमन कितना रिटर्न मिलेगा. लॉन्ग टर्म में यह मल्टीबैगर साबित होता है. इसमें निवेश करने के बाद आपका एक्टिव रहना जरूरी नहीं है. खुद से बाजार में निवेश करने पर उस स्टॉक और सेक्टर के बारे में अपडेटेड जानकारी जरूरी है. अगर आप शेयर बजार में ट्रेडिंग करते हैं या फिर इसकी बारिकी को समझना चाहते हैं तो समय के साथ निवेश का तरीका सीखा जा सकता है. फाइनेंशियल एक्सपर्ट्स अनुभव लेने के बाद ही बाजार में खुद से निवेश की सलाह देते हैं.

सिर्फ 13 फीसदी भारतीय निवेशकों को पसंद है शेयर बाजार, जानिए दुनिया का हाल

Only 13 percent Indian investors like the stock market, know the world

नई दिल्ली। कोरोना काल में दुनियाभर के शेयर बाजारों ने जबरदस्त गिरावट देखी हैं। मार्च और अप्रैल के महीने में तो हालत काफी खराब थी। कुछेक कंपनियों को छोड़ दिया जाए तो सभी को काफी नुकसान झेलना पड़ा। जिसकी निवेशकों को भी काफी नुकसान हुआ। अमेजन, एप्पल, टेस्ला, रिलायंस जैसी बड़ी कंपनियों को फायदा भी हुआ। रिलायंस तो कोरोना काल में ही अपने सबसे अच्छे दौर से गुजर रही है। जिसका फायदा निवेशकों को भी मिला है। क्या प जानते हैं आखिर भारत में कितने इंवेस्टर हैं, जोकि शेयर बाजार में अपना रुपया लगाते हैं? आखिर पूरी दुनिया के मुकाबले भारतीय निवेशकों का शेयर बाजार पर कितना विश्वास है? भारतीय निवेशक किस सेगमेंट में निवेश करना पसंद करते हैं? आइए आपको भी बताते हैं।

इक्विटी बाजार को पसंद नहीं करता भारतीय निवेशक
एक रिपोर्ट के आंकड़ों के अनुसार आम भारतीय निवेशक इक्विटी बाजार को दुनिया के बाकी इंवेस्टर के मुकाबले ज्यादा पसंद नहीं करता है। आंकड़ों की मानें तो भारतीय निवेशक इक्विटी मार्केट में 12.9 फीसदी ही निवेश करते हैं। जबकि बाकी दुनिया में यह आंकड़ा 26.1 फीसदी है। जानकारों की मानें तो भारतीय निवेशकों में शेयर बाजार और उसमें निवेश करने के पैटर्न की समझ काफी कम है। कम जानकारी और जोखिम ना उठाने की हिम्मत की वजह से भारत में निवेशक बाकी सेगमेंट में कम रुपया लगाते हैं। वैसे लॉकडाउन पीरियड में शेयर बाजार में निवेश करने वाले लोगों की संख्या में इजाफा देखने को मिला है। खासकर पढ़ा लिखा यूथ इक्विटी की ओर अट्रैक्ट हो रहा है।

photo_2020-09-21_12-36-52.jpg

भारतीय निवेशक को है इस पर ज्यादा भरोसा Share Market में निवेश करने के तरीके
वहीं भारतीय निवेशकों में सबसे ज्यादा भरोसा डेट या यूं कहें कि बांड बाजार में हैं। जिसमें जोखिम कम होने के साथ रिटर्न भी कम समय में अच्छा देखने को मिलता है। आंकड़ों की मानें तो मौजूदा समय में 41.3 फीसदी इंवेस्टर्स डेट मार्केट में इंवेस्ट करते हैं। वैश्विक निवेशकों की बात करें तो उनकी हिस्सेदारी भी डेट मार्केट में बराबर या यूं कहें कि मामूली रूप में ज्यादा है। 43.9 फीसदी वैश्विक निवेशक डेट मार्केट में निवेश करते हैं।

गोल्ड पर भी है सबसे ज्यादा भरोसा
वहीं दूसरी ओर डेट मार्केट के अलावा भारतीय निवेशक गोल्ड पर भी सबसे ज्यादा निवेश करते हैं। मौजूदा समय में ईटीएफ गोल्ड और ऑनलाइन ट्रेडिंग का चलन काफी बढ़ गया है। कोरोना काल में या यूं कहें कि मार्च के बाद से गोल्ड में निवेशकों को करीब 35 फीसदी का रिटर्न देखने को मिला है। आंकड़ों के अनुसार गोल्ड में निवेश करने वाले इंडियन इंवेस्टर्स की हिस्सेदारी 30.2 फीसदी है। इसके विपरीत ग्लोबली इंवेस्टर्स गोल्ड में इंवेस्ट करना ज्यादा पसंद नहीं करते हैं। सिर्फ 10 फीसदी लोग की गोल्ड में इंवेस्ट करना Share Market में निवेश करने के तरीके पसंद करते हैं।

photo_2020-09-21_12-23-00.jpg

रियल एस्टेट में कम हुआ रुझान
बीते 5 से 6 सालों में भारत में प्रॉपर्टी का मार्केट काफी ठंडा चल रहा है। कोरोना काल में रियल एस्टेट की और दुर्दशा हो गई है। इसका कारण है निवेशकों का रियल एस्टेट के प्रति रुझान कम होना। वास्तव में देश में हजारों प्रोजेक्ट्स सालों से पेंडिंग पड़े हैं। आम्रपाली ग्रुप जैसे मामले सामने आने के बाद निवेशकों का मन रियल एस्टेट से काफी टूटा है। बैंकों द्वारा ब्याज दरें 20 साल के निचले स्तर पर लाने के बाद भी निवेशकों को आकर्षित नहीं कर पा रहा है। इन सब के बाद भी 15.6 फीसदी भारतीय निवेशकों की हिस्सेदारी रियल एस्टेट में है। वहीं ग्लोबल इंवेस्टर्स में रियल एस्टेट का भरोसा अब भी कायम है। भारत के मुकाबले विदेश निवेशक रियल एस्टेट में निवेश करना पसंद कर रहे हैं। यह आंकड़ा 20 फीसदी का है।

SHARE MARKET : इस कंपनी में निवेश करने वाले निवेशक बने करोड़पति दिया, आपको भी करना चाहिए निवेश

SHARE MARKET INVESTMENT : वर्तमान समय में लोगों का आकर्षण शेयर बाजार (Share Market) की तरफ काफी देखा जा रहा है। हर कोई शेयर बाजार (Share Market) में निवेश (Invest) का इच्छुक है। शेयर मार्केट (Share Market) ने अपने निवेशकों (Investors) की किस्मत बदल दी है। इसके साथ ही कई निवेशकों (Investors) को शेयर मार्केट (Share Market) में घाटे का सामना भी करना पड़ता है। हालांकि इसका कारण निवेशकों (Investors) का जिस कंपनी के शेयर (Share) खरीद रहे हैं, उसके बारे में जानकारी न रखना ही है। कई बार निवेशक (Investors) बिना उस कंपनी के बारे में जाने, बिना उसका रिटर्न हिस्ट्री चेक किए ही अपना पैसा निवेश (Invest) कर देते हैं। और इसके बाद उन्हें निराशा हाथ लगती है, उनका पैसा डूबने लगता है। अगर आप शेयर मार्केट (Share Market) में निवेश करना चाहते हैं, तो आज हम आपको एक ऐसे कुछ शेयर (Share) के बारे में जानकारी देंगे जिसमें निवेश (Invest) करके निवेशक (Investors) अधिक रिटर्न प्राप्त कर सकते हैं।

शेयर बाजार (Share Market) में मंदी के समय भी लांसर कंटेनर लाइन्स (Lancer Container Lines) ने बेहतर रिटर्न दिया है। लांसर कंटेनर लाइन्स (Lancer Container Lines) कंपनी के शेयर (Share) ने अपने निवेशकों (Investors) को बीते 6 साल में 18 हजार फीसदी से भी अधिक का रिटर्न दिया है। वर्ष 2016 में को लांसर कंटेनर लाइन्स (Lancer Container Lines) कंपनी के शेयर (Share) की मार्केट प्राइस 2.63 रूपये थी। वहीं अब इस कंपनी के शेयर (Share) की कीमत (खबर लिखे जाने तक) 480.10 रूपये है। इस समय अवधि में इस शेयर (Share) ने अपने निवेशकों (Investors) को 18,154.75 फीसदी का रिटर्न दिया है, जो कि काफी अधिक है। इस समय अवधि में अगर किसी निवेशक (Investors) ने इस कंपनी में 55 हजार रूपये निवेश (Invest) किए होंगे, तो वे आज 1 करोड़ रूपये बन गए होंगे।

लांसर कंटेनर लाइन्स (Lancer Container Lines) ने बीते 5 साल में भी काफी मात्रा में रिटर्न दिया है। लांसर कंटेनर लाइन्स (Lancer Container Lines) कंपनी के शेयर (Share) ने बीते 5 साल में अपने निवेशकों (Investors) को 1600 से अधिक फीसदी तक का रिटर्न दिया है। इस कंपनी में अगर किसी निवेशक (Investors) ने आज से 5 वर्ष पहले इस कंपनी में 1 लाख रूपये का निवेश (Invest) किया होगा, तो आज वो राशि 17.41 लाख रूपये होगी। यानी की इस कंपनी के शेयर (Share) ने इस समय अवधि में अपने निवेशकों (Investors) को 1641.39 फीसदी तक का रिटर्न दिया है।

शेयर मार्केट (Share Market) की लांसर कंटेनर लाइन्स (Lancer Container Lines) कंपनी में निवेश (Invest) करने वाले निवेशक (Investors) काफी खुश हैं। इस कंपनी ने अपने निवेशकों (Investors) को बीते 1 साल में 200 से अधिक फीसदी तक का रिटर्न दिया है। लांसर कंटेनर लाइन्स (Lancer Container Lines) कंपनी में अगर किसी निवेशक (Investors) ने 1 साल पहले इसमें निवेश (Invest) किया होगा तो वो राशि इस समय 3.08 लाख रूपये हो गई होगी इस अनुसार इस समय अवधि के अंदर इस कंपनी के शेयर (Share) ने अपने निवेशकों (Investors) को 208.55 फीसदी का रिटर्न दिया है।

आपके काम की हर महत्वपूर्ण खबर और अपडेट उपलब्ध है हमारे इस वेबसाइट पर। चाहे हो रोजगार से जुड़ी खबर या हो योजनाओं संबंधी जानकारी हर अपडेट और हर खबर आपको मिलेगी हमारे इस Share Market में निवेश करने के तरीके वेबसाइट पर। अगर आप चाहते हैं कि जब भी हम कोई खबर प्रकाशित करें तो आपको उसका नोटिफिकेशन मिले तो आप हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़ सकते हैं जिसका लिंक इस पोस्ट के नीचे हरे रंग की पट्टी में दिया गया है। नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके आप हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़ सकते हैं और हर अपडेट का नोटिफिकेशन सबसे तेज और पहले प्राप्त कर सकते हैं। हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़ने का सबसे बड़ा लाभ यह है कि आपको हर खबर का नोटिफिकेशन सबसे तेज मिल जाता है और आपसे आपके काम की कोई भी महत्वपूर्ण खबर नहीं छूटती है।

इन्वेस्ट करने में मेरी सहायता करें

अपने पैसे का निवेश करना चाहते हैं, लेकिन सुनिश्चित नहीं है कि कहां? आपकी बेहतर निवेश करने में मदद करने के लिए और अपने पैसे का अधिकतम लाभ उठाने के बारे में सूचित निर्णय लेने के लिए हमारे पास अनेक विचार हैं।

स्टॉक मार्केट निवेश के लिए मोतीलाल ओसवाल क्यों चुनें

  • इंडस्ट्री लीडर
  • धन सृजन के 30 वर्ष
  • 10 लाख + ग्राहकों
  • 70k cr + भंडार संपत्ति
  • 2,200 + लोकेशन्स

मोतीलाल ओसवाल के साथ डीमैट खाता अभी खोलें!

Loading.

Portfolio Investments

निवेश करने के लिए तैयार पोर्टफोलियो

स्टॉक मार्केट में भाग लेना चाहते हैं, लेकिन अपने निवेश पोर्टफोलियो का प्रबंधन करने के लिए बिल्कुल समय नहीं है? अपनी आवश्यकताओं के लिए पूर्व-पैक इक्विटी उत्पादों की एक विविध रेंज के साथ एक सलाहकार चुनें।

  • निष्पक्ष ए.आई-संचालित निवेश सलाह
  • आपके निवेश की आवश्यकताओं के लिए अनुकूलित पोर्टफोलियो
  • पोर्टफोलियो वास्तविक समय में फिर से संतुलित
  • निष्पादित करने के लिए विवेक की शक्ति

जैसे आप चाहते हैं वैसे निवेश करें

  • एस.आई.पी (सिस्टेमेटिक इन्वेस्टमेंट प्लान)कम से कम 10, 000 रुपए तक
  • केवल 2.5 लाख रूपए का एकमुश्त निवेश

मेरे पोर्टफोलियो में सुधार करें

क्या आपका निवेश पोर्टफोलियो जोखिम और प्रतिलाभ के सही मिश्रण के साथ गुणकारी है? हमारे विकसित बहुभाषी पोर्टफोलियो पुनर्गठन उपकरण को आपका मार्गदर्शन करने दें।

हमारा पोर्टफोलियो पुनर्गठन टूल कैसे कार्य करता है

अपने मौजूदा पोर्टफोलियो को अपलोड करें

अपने मौजूदा पोर्टफोलियो को अपलोड करने से शुरूआत करें

हमारी समीक्षा और व्यक्तिगत अंतर्दृष्टि प्राप्त करें

हम आपके पोर्टफोलियो की समीक्षा करेंगे और व्यक्तिगत अंतर्दृष्टि साझा करेंगे

अपने पोर्टफोलियो पर हमारी अनुशंसाएं प्राप्त करें

हम आपको सलाह देंगे कि आप अपने पोर्टफोलियो को कैसे बदल सकते हैं और सुधार सकते हैं

कहां निवेश करें

अभी भी सोच रहे हैं कि कहाँ निवेश करें?

प्रतिलाभ , कमाई, या अधिक - चाहे कुछ भी आपकी निवेश की आवश्यकता हो, हमारे ए.आई- संचालित उपकरण आपको समझते हैं और आपके लिए सही पोर्टफ़ोलियो की सिफारिश करते हैं। केवल एक निवेश की आवश्यकता चुनें, कुछ सवालों के जवाब दें और आप शुरू करने के लिए तैयार हैं।

रेटिंग: 4.47
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 578
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *