एक दलाल चुनना

कैसे इंटरनेट पर डॉलर करने के लिए

कैसे इंटरनेट पर डॉलर करने के लिए

अपनी साइट पर विज्ञापनों से कमाई करने का तरीका जानना चाहते हैं? Google AdSense आज़माएं

विज्ञापनों से पैसे कमाने के कई तरीके हैं. अगर आप Google की मदद से पैसे कमाना चाहते हैं, तो हम आपको अपनी साइट पर AdSense को आज़माने का सुझाव देते हैं. यहां बताया गया है कि शुरुआत करने के लिए आपको क्या जानने की ज़रूरत है.

क्या आपको पता है कि Google AdSense की मदद से कई तरीकों से पैसे कमाए जा सकते हैं? क्या आपने ऐसे कई मौके छोड़े हैं जिनकी मदद से आप कैसे इंटरनेट पर डॉलर करने के लिए कैसे इंटरनेट पर डॉलर करने के लिए Google से कमाई कर सकते हैं? अगर आप Google AdSense से ज़्यादा मुनाफ़ा कमाना चाहते हैं, तो कमाई करने के AdSense के इन तरीकों पर ज़रूर नज़र डालें.

1. Google AdSense के लिए सही तरह की वेबसाइट बनाएं.

अगर बात Google AdSense से पैसे कमाने की हो, तो कुछ खास तरह की साइटें बेहतरीन काम करती हैं. AdSense से पैसे कमाने के लिए आपको दो बातों पर ध्यान देना चाहिए. पहली बात, आपकी साइट पर अच्छी सामग्री हो और दूसरी बात, साइट पर ज़्यादा ट्रैफ़िक हो.

सामग्री दो तरह की होती है. एक तरह की सामग्री ऐसी होती है जो रोज़ाना नए लोगों को आपकी साइट पर लाती है. दूसरी तरह की सामग्री वह है जो आपकी साइट पर पहले आ चुके लोगों को वापस लाती है. आपको इन दोनों तरह की सामग्रियों में अच्छा संतुलन बनाना होगा. इस तरह आपकी साइट पर नया ट्रैफ़िक आता रहेगा. साथ ही, आने वाले ट्रैफ़िक का बड़ा हिस्सा आपकी साइट पर दोबारा आना पसंद करेगा.

ऐसी साइटें जिनकी सामग्री नए और दोबारा आने वाले लोगों का ध्यान खींचने के लिए बिल्कुल सही है:

  • ब्लॉग साइट
  • समाचार साइट
  • फ़ोरम और चर्चा बोर्ड
  • खास सोशल नेटवर्क
  • मुफ़्त ऑनलाइन टूल

ऐसा नहीं है कि आप सिर्फ़ इस तरह की साइटें ही बना सकते हैं. लेकिन, ऐसी साइटों को अच्छी सामग्री के साथ आसानी से ऑप्टिमाइज़ किया जा सकता है और प्रचार किया जा सकता है. इनके लिए ऐसा लेआउट ढूंढना आसान होता है जो सामग्री दिखाने और आपके Google AdSense विज्ञापनों को क्लिक दिलवाने, दोनों के लिए अच्छी तरह काम करता है.

2. अलग-अलग तरह की विज्ञापन यूनिट का इस्तेमाल करें.

अलग-अलग कंपनियां जब विज्ञापन देने कैसे इंटरनेट पर डॉलर करने के लिए वाले से विज्ञापन बनवाती हैं, तो अलग-अलग विज्ञापन स्टाइल का इस्तेमाल करती हैं - Google AdWords. कंपनियों के पास टेक्स्ट पर आधारित सरल विज्ञापन, इमेज वाले विज्ञापन, और वीडियो विज्ञापन बनाने के विकल्प होते हैं.

विज्ञापन देने वालों के पास अलग-अलग फ़ॉर्मैट के विज्ञापन बनाने का विकल्प होता है. इसलिए, आपको साइट पर अलग-अलग विज्ञापन यूनिट का इस्तेमाल करके, दर्शकों को उन विज्ञापन देने वालों से जुड़ने का मौका देना चाहिए जिनके विज्ञापन पर क्लिक होने की सबसे ज़्यादा संभावना होती है.

अलग-अलग तरह के विज्ञापनों के लिए जगह तय करते समय आपको उपयोगकर्ता अनुभव को ध्यान में रखना चाहिए. आपके पेज पर विज्ञापनों से ज़्यादा सामग्री होनी चाहिए. अपनी साइट पर आंकड़ों, विज्ञापन की सही जगह, और विज्ञापन की स्टाइल की जांच करने के लिए Google Analytics का इस्तेमाल करें. इससे आपको पता चलेगा कि आपकी साइट और उस पर आने वालों के लिए क्या बेहतर है.

3. AdSense कस्टम खोज विज्ञापन का इस्तेमाल करें.

अगर आपकी साइट पर बहुत ज़्यादा सामग्री (जैसे ब्लॉग, समाचार फ़ोरम) है, तो आप साइट पर AdSense कस्टम खोज का इस्तेमाल कर सकते हैं. यह आपकी साइट पर किसी खास सामग्री को ढूंढने में उपयोगकर्ताओं की मदद करेगा और उनके अनुभव को बेहतर बनाएगा. साथ ही, साइट पर खोज के नतीजों के साथ विज्ञापन दिखाकर, यह Google AdSense से होने वाली कमाई को भी बढ़ाएगा.

ध्यान दें कि AdSense Custom Search, Google Custom Search से अलग है. अपनी साइट पर AdSense Custom Search पाने के लिए आपको आवेदन करना होगा. इसके बाद ही आप अपनी साइट पर खोज करने वालों से कमाई कर पाएंगे.

4. YouTube पर Google AdSense की मदद से कमाई करें.

Google AdSense का इस्तेमाल सिर्फ़ वही लोग नहीं कर सकते जो टेक्स्ट पर आधारित कॉन्टेंट या मुफ़्त ऑनलाइन टूल बनाते हैं. अगर आपको अच्छे वीडियो बनाने आते हैं, तो खुद के YouTube चैनल से YouTube पर अपने खास वीडियो प्रकाशित करना शुरू करें.

अपने चैनल को स्थापित करने के बाद, आप अपने YouTube चैनल के सुविधाएं सेक्शन में जाकर 'कमाई कैसे इंटरनेट पर डॉलर करने के लिए करना' विकल्प को चालू कर सकते हैं. यहां आपको अपने YouTube चैनल को अपने AdSense खाते से लिंक करने के निर्देश दिखाई देंगे. इन्हें पूरा करके आप अपने वीडियो से कमाई करना शुरू कर सकते हैं.

अपने YouTube चैनल को अपने AdSense खाते से लिंक करने के बाद, आप वह वीडियो चुन सकते हैं जिससे आप कमाई करना चाहते हैं. साथ ही, यह भी तय कर सकते हैं कि आप वीडियो देखने वालों को किस तरह के विज्ञापन दिखाना चाहते हैं. इसके लिए, बस अपने वीडियो मैनेजर में जाकर उस वीडियो को चुनें जिससे आप कमाई करना चाहते हैं. फिर, उस वीडियो की विज्ञापन की सेटिंग चुनें.

उसके बाद, आप कभी भी वीडियो मैनेजर को ब्राउज़ करके कमाई करने के लिए चुने गए वीडियो देख सकते हैं (उनके बगल में हरे डॉलर का चिह्न होगा) और उनकी सेटिंग प्रबंधित कर सकते हैं.

ई-कॉमर्स बिज़नेस की शुरुआत कैसे करें?

आज का युग डिजिटल है। हमारी रोज़ की शॉपिंग से लेकर हमारे कैश के लेन-देन तक सब कुछ ऑनलाइन प्लेटफॉर्म्स पर आ गया है। ये ऑनलाइन प्लेटफॉर्म्स हमारी ज़रूरतें बिलकुल उसी तरह पूरी करते हैं जैसे कि बगल की कोई दुकान। इस डिजिटल होते समाज के डिजिटल ट्रेंड के साथ कदम मिलाकर चलने के लिए, आज कई रिटेल स्टोर्स अपना बिज़नेस ऑनलाइन कैसे इंटरनेट पर डॉलर करने के लिए लाने के विषय में सोच रहे हैं। माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक और दुनिया के सबसे अमीर लोगों में शुमार बिल गेट्स ने तो ई-कॉमर्स बिज़नेस के बारे में यह तक कह दिया कि आने वाले समय में यदि आपका व्यवसाय इंटरनेट पर नहीं है, तो आपका व्यवसाय, व्यवसाय क्षेत्र से बाहर हो जाएगा।

क्या है यह ई-कॉमर्स ?

ई-कॉमर्स का मतलब इलेक्ट्रॉनिक कॉमर्स कैसे इंटरनेट पर डॉलर करने के लिए या इंटरनेट कॉमर्स होता है। इंटरनेट की मदद से उत्पादों, सेवाओं, पैसों और डाटा आदि का लेन-देन ई-कॉमर्स के अंतर्गत आता है। अमूमन इस शब्द का प्रयोग उत्पादों की भौतिक खरीद-फरोख्त के लिए किया जाता है, परन्तु ई-कॉमर्स इंटरनेट पर होने वाले हर तरह के व्यावसायिक व्यवहार को शामिल करता है।

भारत में ई-कॉमर्स बिज़नेस का स्कोप

ई-कॉमर्स ने भारत में बिज़नेस करने के तरीका बदल दिया है। साल 2026 तक भारतीय ई-कॉमर्स मार्किट 200 बिलियन अमरीकी डॉलर तक बढ़ने की संभावना है। साल 2017 में यह आंकड़ा 38.5 बिलियन अमरीकी डॉलर था। इस इंडस्ट्री की अधिकतर ग्रोथ इंटरनेट और स्मार्टफोन के बढ़ते उपयोग के कारण हुई है। भारत में जो डिजिटल क्रांति चल रही है, उसके हिसाब से भारत में इंटरनेट उपभोक्ताओं की संख्या साल 2019 के 636.73 मिलियन के मुकाबले 2021 में 829 मिलियन की संख्या पार कर सकती है। भारत की इंटरनेट इकॉनमी ई-कॉमर्स के चलते 2020 में 250 मिलियन अमरीकी डॉलर तक पहुँच सकती है। ई-कॉमर्स से होने वाली कमाई भी साल 2020 में 51 प्रतिशत की सालाना बढ़त-दर के साथ 120 बिलियन अमरीकी डॉलर तक पहुँच सकती है। फिलहाल यह ग्रोथ रेट विश्व में सबसे अधिक है।

क्या हैं ई-कॉमर्स बिज़नेस शुरू करने के स्टेप्स?

एक बिज़नेस प्लान और मॉडल बनाएं

प्लानिंग की जितनी ज़रूरत एक ईंट-सीमेंट से बनी दुकान खोलने में है, उतनी ही ज़रूरत एक ई-कॉमर्स सेटअप खोलने में भी है। आज के गला-काट प्रतिस्पर्धा के दौर में बिना तैयारी के मैदान में उतरना बेवकूफी ही है। बिना एक मॉडल प्लान के आपके फेल होने के चांसेस काफी बढ़ जाते हैं।

चुनें कि आप क्या बेचना चाहते हैं

ऑनलाइन बेचने के लिए सही उत्पादों का चुनाव भी बहुत ज़रूरी है। यह आपके बिज़नेस के रूप, फायदे और लम्बे समय तक आने वाली सफलता का फैसला करता है। कई तरह के प्रोडक्ट्स हैं जो आप ऑनलाइन बेच सकते हैं। आप चाहे तो पहले किसी एक केटेगरी से शुरू कर बाद में अपनी प्रोडक्ट लाइन और बढ़ा सकते हैं। अपने बजट और उपलब्ध साधनों के मुताबिक आप यह निर्णय ले सकते हैं। कस्टमर्स की पसंद -नापसंद, ट्रेंड आदि का भी ख़ास ख्याल रखें।

अपनी एक ई-कॉमर्स वेबसाइट बनाएं

आजकल कई ऐसे ऑनलाइन टूल्स उपलब्ध हैं जिनकी मदद से आप अपने ऑनलाइन स्टोर की वेबसाइट बना सकते हैं। इन टूल्स ने यह बनाना उतना ही आसान कर दिया है जितना की एक फेसबुक अकाउंट बनाना।

अपने प्रोडक्ट के फोटो/ वीडियो अपलोड करें और कैसे इंटरनेट पर डॉलर करने के लिए बेचना शुरू कर दें

एक बार आप अपना ऑनलाइन स्टोर सेटअप कर लेते हैं, उसके बाद आप अपने प्रोडक्ट की डिटेल्स अपलोड कर अपनी सेल शुरू कर सकते हैं।

कुछ अन्य ज़रूरी बातें:

  • एक ई-कॉमर्स बिज़नेस प्लान करना उतना मुश्किल नहीं हैं, जितना कि उस प्लान को लागू कर के उसका संचालन करना। आज कल जिस तरह के साधन और जानकारियां उपलब्ध हैं, उनका इस्तेमाल करके आप यह प्लानिंग कभी भी कर सकते हैं। हालाँकि असली मेहनत इस प्लान को सच करने में लगती है। किसी भी बिज़नेस को ऑनलाइन ले जाने से पहले कुछ बातें पहले से ही डिसाइड कर लेनी चाहिए। यह आगे जाकर आपके लॉस की संभावनाओं को कम करता है।
  • सबसे पहले तो यह क्लियर रखें कि आपके टारगेट कस्टमर कौन होंगे और आप किस स्तर पर अपना बिज़नेस ऑपरेट कर रहे होंगे। चुनें कि आप अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर डिलीवरी करेंगे या घरेलू या फिर पूरे देश में ? आपके पास मौजूदा क्षमताओं और अच्छे प्रॉफिट की संभावनाओं के आधार पर यह निर्णय लें।
  • जो भी उत्पाद आप ऑनलाइन बेचना चाहते हैं, उसका एक न्यूनतम स्टॉक अपने पास तैयार रखें। जैसे ही कोई कस्टमर आर्डर लगाता है, आप इतने सक्षम होने चाहिए कि समय पर उसे उसके मनचाहे प्रोडक्ट्स डिलीवर कर सकें। ऐसा कर पाने से आपका नाम बढ़ेगा और कस्टमर के साथ आपका रिश्ता और मज़बूत होगा।
  • अपने शिपिंग पार्टनर्स के टच में रहे। रेट्स आदि पर बातचीत बनाए रखें। एक सफल ऑनलाइन बिज़नेस के लिए यह ज़रूरी है कि बिज़नेस चलाने से जुड़े सभी लेन-देन आदि पर आपकी पैनी नज़र बनी रहे।

बिज़नेस और कस्टमर्स की मांगों के साथ कदम मिलाकर आप तभी चल पाएंगे जब आप पहले से ही सभी ज़रूरी जानकारियों और संसाधनों के साथ तैयार रहेंगे। अपने आसपास अमेज़न, फ्लिपकार्ट आदि जैसे ई-कॉमर्स बिज़नेस पर नज़र डालेंगे तो आप पाएंगे कि इनकी ताकत इनकी अपडेटेड जानकारियां ही हैं, जिनके अनुसार उपयुक्त सेवाएं देकर, वे हर दिन अपने ग्राहकों की बदलती मांगें संतुष्ट कर पाते हैं।

इसके अलावा पढ़ें घर बैठे बिज़नेस करने के टिप्स जो आपको दे सकते हैं अच्छा ख़ासा मुनाफ़ा!

क्रिप्टो एक्सचेंज FTX से करोड़ों डॉलर हुए गायब, कंपनी बोली - कोल्ड वॉलेट में ट्रांसफर कर रहे एसेट्स

नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। दिवालिया होने की कगार पर खड़ा क्रिप्टो एक्सचेंज FTX ने रविवार को कहा कि उसके प्लेटफार्म पर 'अनधिकृत लेनदेन' के चलते करोड़ों डॉलर की निकासी हुई है। इसके साथ कंपनी ने बताया कि इसके कारण कंपनी ने अपनी कई डिजिटल एसेट्स को 'कोल्ड वॉलेट कस्टोडियन' में स्थानांतरित कर दिया है।

FTX कंपनी के अधिकारी राइन मिलर ने बताया कि एक्सचेंज की सभी डिजिटल सम्पत्तियों को कोल्ड स्टोरेज में स्थानांतरित करने की प्रक्रिया में तेजी ला रहा है, जिससे अनधिकृत लेनदेन से होने वाले नुकसान को कम किया जा सके। बता दें, कोल्ड स्टोरेज कैसे इंटरनेट पर डॉलर करने के लिए उन क्रिप्टो वॉलेट्स को कहा जाता है, जिनका इंटरनेट से कोई लिंक नहीं होता है।

Inox Green Energy IPO allotment out know to check status

FTX को अनधिकृत लेनदेन से कितना हुआ नुकसान

कंपनी ने नुकसान के बारे में कुछ नहीं बताया कैसे इंटरनेट पर डॉलर करने के लिए है। वहीं, सिंगापुर की एनालिटिक्स फर्म नानसेन ने बताया कि एक दिन में FTX से 266 मिलियन डॉलर (2,100 करोड़ रुपये) निकासी हुई है, जिसमें से 73 मिलियन डॉलर (करीब 580 करोड़ रुपये) केवल FTX यूएस से निकले गए हैं।

Gautam Adani at World Congress of Accountants Said India add a trillion dollar to GDP every 12-18 months

कंपनी कर चुकी है दिवालिया प्रक्रिया के लिए आवेदन

अमेरिका में पिछले हफ्ते ही FTX दिवालिया प्रक्रिया के चैप्टर 11 के लिए आवेदन किया था। इसके बाद कंपनी के संस्थापक और सीईओ सैम बैंकमैन फ्राइड ने कंपनी के सभी पदों से इस्तीफा दे दिया था और जॉन रे III को कंपनी का नया सीईओ बना दिया गया था। बता दें, FTX के साथ उससे जुड़ा हुई अल्मेडा रिसर्च और 130 सहायक कंपनियों ने भी दिवालिया प्रक्रिया के लिए आवेदन किया है।

Air India to introduce premium economy class in certain long haul flights next month (Jagran File Photo)

FTX में फंड ट्रांसफर को लेकर चल रही जांच

FTX पर समाचार एजेंसी रायटर्स ने एक रिपोर्ट में कहा कि कंपनी में ग्राहकों के फंड से कम से कम एक बिलियन डॉलर की राशि गायब है। इसके साथ रिपोर्ट में यह भी बताया कि सीईओ सैम बैंकमैन फ्राइड ने ग्राहकों का फंड से हेराफेरी की है।

US Broadband Internet: पूरे अमेरिका को ऑनलाइन के लिए 65 अरब डॉलर की योजना शुरू, गरीबों को मुफ्त इंटरनेट

US Broadband Internet: जो बिडेन प्रशासन ने 2030 तक अमेरिका में सभी के लिए सस्ती और विश्वसनीय हाई-स्पीड ब्रॉडबैंड कैसे इंटरनेट पर डॉलर करने के लिए इंटरनेट पहुंच उपलब्ध कराने के लिए 45 अरब डॉलर की परियोजना शुरू कर दी है।

Neel Mani Lal

broadband internet

ब्रॉडबैंड इंटरनेट (फोटो-सोशल मीडिया)

Broadband Internet: अमेरिका में जो बिडेन प्रशासन ने 2030 तक अमेरिका में सभी के लिए सस्ती और विश्वसनीय हाई-स्पीड ब्रॉडबैंड इंटरनेट पहुंच उपलब्ध कराने के लिए 45 अरब डॉलर की परियोजना शुरू कर दी है। 1 ट्रिलियन डॉलर के बाइपार्टिसन इन्फ्रास्ट्रक्चर लॉ में इंटरनेट फॉर ऑल ब्रॉडबैंड के लिए 65 अरब डॉलर की फंडिंग रखी गई है। अब अमेरिका के राज्य और अन्य संस्थाएं सभी कार्यक्रमों के लिए वित्त पोषण के लिए आवेदन कर सकती हैं।

वाणिज्य सचिव जीना रायमोंडो ने कहा है कि - 21 वीं सदी में यदि आपके पास विश्वसनीय, सस्ती हाई-स्पीड इंटरनेट(High Speed Internet) तक पहुंच नहीं है तो आप अर्थव्यवस्था में भाग नहीं ले सकते हैं।

उन्होंने कहा कि देश भर के अमेरिकियों को अब हाई-स्पीड इंटरनेट(High Speed Internet) एक्सेस की कमी से पीछे नहीं रखा जाएगा। हम यह सुनिश्चित करने जा रहे हैं कि प्रत्येक अमेरिकी के पास ऐसी तकनीकों तक पहुंच होगी जो उन्हें कक्षा में भाग लेने, एक छोटा व्यवसाय शुरू करने, अपने डॉक्टर से मिलने और आधुनिक अर्थव्यवस्था में भाग लेने की अनुमति देती है।

अफोर्डेबल कनेक्टिविटी प्रोग्राम का उद्देश्य

अमेरिकी राज्य अपने यहां फ़ाइबर-ऑप्टिक केबल (fiber-optic cable) स्थापित करने के लिए फ़ंडिंग का उपयोग कर सकते हैं, अधिक वाई-फाई नेटवर्क लगा सकते हैं या कुछ लोगों को मुफ्त ब्रॉडबैंड इंटरनेट की पेशकश भी कर सकते हैं।

कार्यक्रम का शुभारंभ इस सप्ताह की शुरुआत में इन रिपोर्ट्स के बीच हुआ कि बिडेन प्रशासन ने कम आय वाले परिवारों को सब्सिडी वाली इंटरनेट सेवा प्रदान करने के लिए 20 प्रदाताओं के साथ मिलकर काम किया है।

अधिकांश इंटरनेट फॉर ऑल फंडिंग ब्रॉडबैंड इक्विटी, एक्सेस एंड डिप्लॉयमेंट (बीईएडी) प्रोग्राम से उपलब्ध होगी। राज्यों और अन्य क्षेत्रों को योजना निधि के लिए आशय पत्र और बजट दाखिल करने की आवश्यकता होगी।

फिर उन्हें पंचवर्षीय योजना तैयार करने में मदद करने के लिए 5 मिलियन डॉलर की योजना निधि प्राप्त होगी, जिसमें यह विस्तार से बताया जाएगा कि वे सभी निवासियों को व्यापक इंटरनेट एक्सेस कैसे प्रदान करेंगे। कार्यक्रम में भाग लेने वाले प्रत्येक राज्य को 42.5 अरब डॉलर कोष से कम से कम 100 मिलियन डॉलर प्राप्त होंगे। उसके बाद, ब्रॉडबैंड कवरेज के आधार पर धन आवंटन का निर्णय लिया जाएगा।

योग्य परिवारों को मुफ्त इंटरनेट

इंफ्रास्ट्रक्चर कानून के तहत स्थापित बिडेन के अफोर्डेबल कनेक्टिविटी प्रोग्राम का उद्देश्य कम आय वाले लाखों परिवारों को 30 डॉलर प्रतिमाह से कम में इंटरनेट सेवा उपलब्ध कराना है। व्हाइट हाउस के अनुसार इसी सप्ताह बिडेन और उपराष्ट्रपति हैरिस ने 20 अग्रणी इंटरनेट प्रदाताओं से हाथ मिलाने की घोषणा की, जो सीमित इंटरनेट वाले अमेरिकी परिवारों को 30 डॉलर से कम में उच्च - गुणवत्ता वाली इंटरनेट सेवा प्रदान करेंगे।

इन इंटरनेट प्रदाताओं में एटी एंड टी, कॉमकास्ट, वेरिज़ोन और उत्तरी कैरोलिना के कोमोरियम शामिल हैं जो देश की 80 फीसदी आबादी को कवर करने वाले क्षेत्रों में सेवा प्रदान करते हैं।संघीय सरकार के 20 भागीदार अफोर्डेबल कनेक्टिविटी के लिए योग्य परिवारों को मुफ्त इंटरनेट भी देंगे।

व्हाइट हाउस ने एक बयान में कहा है कि हाई-स्पीड इंटरनेट सेवा अब एक लक्जरी नहीं है - यह एक आवश्यकता है।लेकिन बहुत से परिवार लागत के कारण हाई-स्पीड इंटरनेट से वंचित हैं या उन्हें मासिक इंटरनेट सेवा भुगतान करने के लिए अन्य आवश्यक चीजों में कटौती करनी पड़ती है। हाई-स्पीड इंटरनेट सेवा की लागत सहित कीमतें कम करना राष्ट्रपति बिडेन की सर्वोच्च प्राथमिकता है।

पॉपकॉर्न के डिब्बे से खुला 3.36 अरब डॉलर के बिटकॉइन की चोरी का राज, जानिए क्या है पूरा मामला

World Hindi: लगभग 10 वर्षों के लिए, लापता बिटकॉइन के इस बड़े हिस्से का ठिकाना 3.3 अरब डॉलर से अधिक का रहस्य बन गया था.

Published: November 9, 2022 7:57 AM IST

bitcoin

World Hindi: अमेरिकी अधिकारियों ने एक बाथरूम में पॉपकॉर्न टिन के तल के नीचे छिपे 3.36 अरब डॉलर मूल्य के लगभग 50,676 बिटकॉइन जब्त किए हैं. जॉर्जिया के 32 वर्षीय जेम्स झोंग ने धोखाधड़ी से द सिल्क रोड से बिटकॉइन प्राप्त किया. सिल्क रोड डार्क वेब पर एक साइट है जिसे कभी ‘द अमेजन ऑफ ड्रग्स’ कहा जाता था. अमेरिकी न्याय विभाग ने एक बयान में कहा कि झोंग को सितंबर 2012 में वायर धोखाधड़ी के लिए दोषी ठहराया गया था, जब उसने सिल्क रोड डार्क वेब इंटरनेट मार्केटप्लेस से 50,000 से अधिक बिटकॉइन प्राप्त किए थे.

Also Read:

अमेरिकी अटॉर्नी डेमियन विलियम्स ने कहा, ‘झोंग ने एक दशक पहले वायर धोखाधड़ी की थी, जब उसने सिल्क रोड से लगभग 50,000 बिटकॉइन चुराए थे. लगभग 10 वर्षों के लिए, लापता बिटकॉइन के इस बड़े हिस्से का ठिकाना 3.3 अरब डॉलर से अधिक का रहस्य बन गया था.’ उन्होंने कहा, ‘इस मामले से पता चलता है कि हम जांच करना बंद नहीं करेंगे, चाहे अपराधी कितनी भी कैसे इंटरनेट पर डॉलर करने के लिए कुशलता दिखाए.

लगभग 2011 से 2013 तक सिल्क रोड का उपयोग कई ड्रग डीलरों और अन्य गैरकानूनी विक्रेताओं द्वारा कई खरीदारों को भारी मात्रा में अवैध ड्रग्स और अन्य अवैध सामान और सेवाओं को वितरित करने और इसके जरिए फंड की हेराफेरी करने के लिए किया गया था. 2015 में अमेरिकी अधिकारियों द्वारा एक महत्वपूर्ण अभियोजन के बाद, सिल्क रोड कैसे इंटरनेट पर डॉलर करने के लिए के संस्थापक रॉस उलब्रिच को एक सर्वसम्मत जूरी द्वारा दोषी ठहराया गया था और उम्र कैद की सजा सुनाई गई.

झोंग ने 200 और 2,000 बिटकॉइन के बीच की प्रारंभिक जमा राशि के साथ धोखाधड़ी खातों को वित्त पोषित किया. प्रारंभिक जमा के बाद, उन्होंने जल्दी से उसे निकाल लिया. धोखाधड़ी की अपनी योजना के माध्यम से, वह सिल्क रोड से कई बिटकॉइन निकालने में सक्षम था, जितना उसने पहली बार में जमा किया था. अब उसे अधिकतम 20 साल जेल की सजा का सामना करना पड़ रहा है. (एजेंसी इनपुट्स)

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें विदेश की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

रेटिंग: 4.71
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 378
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *