एक दलाल चुनना

क्रिप्टोबो फैसले

क्रिप्टोबो फैसले
टीथर
टीथर के दाम देखे तो इस समय 87.61 रुपये पर हैं और इसमें 0.74 फीसदी की गिरावट दर्ज की जा रही है.

After Elon Musk

Cryptocurrency Rates Today 13 November: कैसा है क्रिप्टोबो फैसले क्रिप्टो के बाजार का हाल और भारत में क्या चल रहे हैं रेट, जानें यहां

By: ABP Live | Updated at : 13 Nov 2022 02:06 PM (IST)

Edited By: Meenakshi

क्रिप्टोकरेंसी (फाइल फोटो) ( Image Source : Getty )क्रिप्टोबो फैसले

Cryptocurrency Rates Today 13 November: दुनिया की प्रमुख क्रिप्टोकरेंसी आज सुबह के शुरुआती ट्रेड में तो हरे निशान में ट्रेड कर रही थीं पर इनके कारोबार में एक दिन में बड़ी गिरावट देखी गई है. कल से लेकर आज तक ग्लोबल क्रिप्टो मार्केट के मार्केट कैप में 0.69 फीसदी की गिरावट देखी गई है और ये 848.55 अरब डॉलर पर आ गया है. वहीं कुल मिलाकर क्रिप्टो मार्केट का वॉल्यूम 42.69 फीसदी गिरकर 55.22 अरब डॉलर पर आ गया है.

कॉइनमार्केट कैप के मुताबिक भारत में बिटकॉइन का रेट 15 लाख के आसपास घूम रहा है जिसका कुल क्रिप्टो में क्रिप्टोबो फैसले हिस्सा 38.17 फीसदी है और इसके एक दिन के दाम देखें तो ये 0.23 फीसदी चढ़ गया है. हालांकि क्रिप्टोकरेंसी बाजार को लेकर रुख संशय का ही बना हुआ है क्योंकि एफटीएक्स एक्सचेंज ने दिवालिया प्रक्रिया के लिए आवेदन डाल दिया है और इससे क्रिप्टो मार्केट के जोखिम को लेकर फिर से चर्चा हो रही हैं.

Crypto को लेकर अमेरिका की टेंशन का रूस-यूक्रेन युद्ध कनेक्शन

Crypto को लेकर अमेरिका की टेंशन का रूस-यूक्रेन युद्ध कनेक्शन

क्या क्रिप्टो पर अमेरिकी की टेढ़ी नजर के पीछे रूस-यूक्रेन युद्ध है? अमेरिका के राष्ट्रपति जो बिडेन (Joe Biden) ने अमेरिकी ट्रेजरी विभाग और अन्य संघीय एजेंसियों को वित्तीय स्थिरता और राष्ट्रीय सुरक्षा पर क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) के प्रभाव का अध्ययन करने का निर्देश दिया है.

राष्ट्रपति जो बिडेन ने क्रिप्टोक्यूरेंसी की सरकारी निगरानी पर एक कार्यकारी आदेश पर हस्ताक्षर किए हैं जो फेडरल रिजर्व से यह पता लगाने का आग्रह करता है कि क्या केंद्रीय बैंक को अपनी डिजिटल मुद्रा (CBDC) बनानी चाहिए.

100 से ज्यादा देश अपने CBDC लाने पर कर रहे काम

क्रिप्टोकरेंसी की बढ़ती लोकप्रियता के कारण कई देश खुद की सेंट्रल बैंक डिजिटल करेंसी लाने पर काम कर रहे हैं. भारत भी वित्तवर्ष 23 में ही अपनी सीबीडीसी का पायलट ट्रायल करेगा. रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया खुद की डिजिटल करेंसी लाने के लिए अब कई दिनों से काम कर रहा है. इसका जिक्र वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट में भी किया था.

RBI ला रहा भारत की पहली डिजिटल करेंसी, बिटकॉइन जैसी क्रिप्टो से ये कैसे अलग?

RBI ला रहा भारत की पहली डिजिटल करेंसी, बिटकॉइन जैसी क्रिप्टो से ये कैसे अलग?

इस फैसले का रूस पर क्या पड़ेगा असर?

यह कार्रवाई तब हो रही है जब सांसदों और प्रशासन के अधिकारियों द्वारा चिंता व्यक्त की जा रही थी कि रूस यूक्रेन के आक्रमण के कारण अपने बैंकों, कुलीन वर्गों और तेल उद्योग पर लगाए गए प्रतिबंधों के प्रभाव से बचने के लिए क्रिप्टोकरेंसी का उपयोग कर सकता है.

हालांकि बिडेन प्रशासन ने इसपर तर्क दिया है कि रूस क्रिप्टोकरेंसी की ओर रुख करके US और यूरोपीय व्यापार के नुकसान की भरपाई नहीं कर पाएगा. अधिकारियों ने कहा कि रूस द्वारा यूक्रेन पर आक्रमण करने से पहले जो बिडेन की सरकार इस फैसले पर काम कर रही थी.

युवाओं में क्रिप्टो का क्रेज

जोखिमों के बावजूद, अमेरिकी सरकार ने कहा, सर्वेक्षणों से पता चलता है कि लगभग 16% व्यस्क अमेरिकियों – या 40 मिलियन लोगों ने – क्रिप्टोकरेंसी में निवेश किया है. और 18-29 आयु वर्ग के 43% पुरुषों ने अपना पैसा क्रिप्टोकुरेंसी में डाल रखा है.

जो बिडेन द्वारा हस्ताक्षरित कार्यकारी आदेश मुख्य रूप से केंद्रीय बैंक की डिजिटल मुद्राओं से जुड़े जोखिमों और लाभों के आकलन पर आधारित है. कई सरकारों ने पहले ही सीबीडीसी को लागू करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है.

क्रिप्टोकरेंसी पर बैन भारत के लिए सबसे बेहतर विकल्प- RBI के डीप्टी गवर्नर

क्रिप्टोकरेंसी पर बैन भारत के लिए सबसे बेहतर विकल्प- RBI के डीप्टी गवर्नर

Cryptocurrency

क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) एन्क्रिप्शन के जरिए सुरक्षित रहने वाली एक डिजिटल करेंसी है. क्रिप्टोकरेंसी को डिसेंट्रलाइज्ड टेक्नॉलजी, ब्लॉकचेन, के जरिए मेंटेन किया जाता है. इसमें किया जाने वाला पेमेंट इन्टरनेट का उपयोग करके कुछ वॉलेट के रूप में किया जाता हैं. यह करेंसी हमें दिखाई नई देती हैं, इसलिए यह कैशलेस भुगतान का सबसे एडवांस्ड वर्जन है, जोकि डिजिटल फॉर्म में होता है. क्रिप्टोकरेंसी का मुख्य कार्य होता हैं एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर में पैसे ट्रांसफर करना. और यह कार्य किया जाता हैं, ब्लॉकचैन के माध्यम से. ब्लॉकचैन बैंक की तरह कार्य करती है. इसमें जो भी लेनदेन किये जाते हैं, उसका पूरा

सभी खबरें

VISIT MARKETPLACE

तारक मेहता. की 'सोनू भिड़े' ने फिर टेंपरेचर किया High, लेटेस्ट लुक वायरल

तारक मेहता. की 'सोनू भिड़े' ने फिर टेंपरेचर किया High, लेटेस्ट लुक वायरल

यूरोप ट्रिप पर जाने से पहले जानिए आपके लिए कौन सा शहर है खास

यूरोप ट्रिप पर जाने से पहले जानिए आपके लिए कौन सा शहर है खास

न्यूजीलैंड दौरे से बदलेगा भारत, 5 खिलाड़ी T20 WC के लिए दावेदारी करेंगे पक्की

क्रिप्टो मार्केट में बड़ी गिरावट; बिटकॉइन, एथेरियम और सोलाना 6 फीसदी तक फिसले

Crypto Currency Fall After US Fed Rate Hike अमेरिका में ब्याज दर बढ़ने के बाद दुनिया के क्रिप्टो मार्केट में बड़ी गिरावट देखने को मिली है। इस कारण पूरी दुनिया के क्रिप्टो मार्केट की वैल्यू घटकर 907 डॉलर रह गई है।

नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। दुनिया के क्रिप्टोकरेंसी बाजार में गुरुवार को बड़ी बिकवाली देखने को मिली। बड़ी क्रिप्टोकरेंसी जैसे बिटकॉइन, एथेरियम और सोलाना में 6 प्रतिशत तक की गिरावट हुई। क्रिप्टोकरेंसी में बड़ी गिरावट अमेरिका के फेडरल रिजर्व बैंक की ओर से ब्याज दर बढ़ाने के बाद हुई है। कल यूएस फेड ने महंगाई को काबू करने के लिए ब्याज दरों को 0.75 प्रतिशत बढ़ा दिया था।

Coinmarketcap.com के अनुसार, आज दुनिया की कुल क्रिप्टो मार्केट की वैल्यू में 2.06 प्रतिशत की गिरावट हुई है और यह घटकर 907.26 बिलियन डॉलर रह गई है।

क्रिप्टो मार्केट में गिरावट

ब्याजदर बढ़ने के साथ साथ बिटकॉइन की कीमत में इस साल की शुरुआत से कमी देखी जा रही है। अब यह 20,000 डॉलर के नीचे कारोबार कर रहा है। आज बिटकॉइन की कीमत 1.69 प्रतिशत की गिरकर 18,680 डॉलर पर आ गई है।

IRCTC Indian Railway Train Cancelled Today Full list in Hindi (Jagran File Photo)

एथेरियम

दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी की कीमत में 5.83 प्रतिशत गिरकर 1,262 डॉलर पर आ गई है। एथेरियम की कीमत भारतीय समय के अनुसार रात 1.09 बजे बिटकॉइन जितनी ही गिरावट थी, लेकिन फेड की कमेंट्री के बाद इसमें बड़ी गिरावट हुई है।

Petrol Diesel Price today in Lucknow, Jaipur, Noida, Gurugram, Patna and Delhi

दूसरी क्रिप्टोकरेंसी में गिरावट

सोलाना की कीमत 2.75 प्रतिशत गिरकर 31.05 डॉलर, कार्डेनो की कीमत 3.35 प्रतिशत 0.44 डॉलर और डोजीकॉइन की कीमत 3.19 प्रतिशत गिरकर 0.05 डॉलर पर आ गई है।

इस साल यह लगातार पांचवां मौका है, जब अमेरिका ने ब्याज दरों में इजाफा किया है। इस साल से अब तक अमेरिका का केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व ब्याज दर में 3 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी कर चुका है। ब्याज दरों में बढ़ोतरी के साथ-साथ क्रिप्टो मार्किट में गिरावट आ रही है।

क्रिप्टो बाजार में हाहाकार के बीच इन Cryptocurrencies में बड़ी उछाल, चेक करें लेटेस्ट रेट्स

क्रिप्टो बाजार में हाहाकार के बीच इन Cryptocurrencies में बड़ी उछाल, चेक करें लेटेस्ट रेट्स

पिछले 24 क्रिप्टोबो फैसले घंटे के दौरान बिटक्वाॅइन की कीमतों में भारी गिरावट देखने को मिली है। यही वजह है कि एक बिटक्वाॅइन की कीमत 16% घटकर 22,461.51 डाॅलर हो गई है। अगर हम बीते एक सप्ताह पर नजर दौड़ाएं तो दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी की कीमतों में 28% की गिरावट देखने को मिली है। हालांकि, इतनी गिरावट के बावजूद भी यह मार्केट कैप के हिसाब से सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी है।

रेटिंग: 4.85
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 695
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *