ब्रोकर ट्रेडिंग इंस्ट्रूमेंट्स

वित्तीय योजना

वित्तीय योजना

Page not found

The requested page "/sites/default/files/%E0%A4%AA%E0%A5%82%E0%A4%82%E0%A4%9C%E0%A5%80%20%E0%A4%A8%E0%A4%BF%E0%A4%AF%E0%A5%8B%E0%A4%9C%E0%A4%A8-%20%E0%A4%B5%E0%A4%BF%E0%A4%A4%E0%A5%8D%E0%A4%A4%E0%A5%80%E0%A4%AF%20%E0%A4%A8%E0%A4%BF%E0%A4%AF%E0%A5%8B%E0%A4%9C%E0%A4%A8.%20%E0%A4%AE%E0%A5%80%E0%A4%A1%E0%A4%BF%E0%A4%AF%E0%A4%BE%20%E0%A4%AA%E0%A5%8D%E0%A4%B0%E0%A4%AC%E0%A4%A8%E0%A5%8D%E0%A4%A7%E0%A4%A8%20%E0%A4%AA%E0%A5%87%E0%A4%AA%E0%A4%B0.pdf" could not be found.

Content Owned, Updated and Maintained by DBRAC. Copyright © 2017, All Rights Reserved.
Designed and Developed by Jabitsoft Pvt. Ltd.

तलाक के मुकदमे की कार्यवाही के लिए वित्तीय योजना बनाना

एैसा कहा जाता है कि न्यायालय और अस्पतालों में एक व्यक्ति की सारी जमा पंूजी समाप्त हो जाती है और इसके कारण एक राजा भी कंगाल हो जाता है । हम सभी ने समाचार पत्रों में रितिक रोशने के तलाक के मामले में 400 करोड़ की अनुमानित राशि और अब जैफ बीसोज़ के मामले में $36 ठपससपवद के तलाक के समझौते की राशि के बारे में समाचारा पत्रों में पढ़ा है । हालांकि उनके पास खर्च करने वित्तीय योजना के लिए इतना रूप्या था लेकिन मध्यम वर्गीय परिवार के व्यक्ति के लिए जो कि तलाक की कार्यवाही भुगत रहा हो वह इतना खुशकिसमत नहीं होता है । तो एक व्यक्ति कैसे अपने तलाक की कार्यवाही के दौरान और उसके पश्चात अपनी वित्तीय स्थिति का प्रबंधन करे ।

हालांकि कि काननूी तौर पर वित्तीय योजना को काला पैसा और वर्तमान में चल रहे हालातों को मद्येनज़र रखते हुए सावधानीपूर्वक योजित करना असंभव है । यहां कुछ बातों का वर्णन किया गया है कि एक व्यक्ति किस प्रकार से तलाक की कार्यवाही को भुगत सकता है या फिर तलाक की संभावना के लिए स्वयं को बेहतर तौर पर तैयार कर सकता है ।

1. वास्तव में प्रत्येक व्यक्ति अपने उज्जवल भविष्य और आस्मिक और अप्रत्याशित घटनाओं के लिए अपनी जमा पंूजी को बचा कर रखता है । जिस प्रकार से समाज चल रहा है उस हिसाब से तलाक की कार्यवाही पहले के मुकाबले और अधिक बढ़ गई है । इन अप्रत्याशित घटनाओं के चलते आपके द्वारा पहले से जमा की छोटी पूंजी आपको लम्बे समय तक सहारा देगी । इसमें से एक तरीका ैप्च्जिसे आम तौर पर व्यवस्थित निवेश योजना कहा जाता है उसमंे छोटी राशि बचाना । मेरे आज तक के अनुभव के अनुसार व्यक्ति स्वयं को किसी कार्यवाही में शामिल हाने के वित्तीय पहलू को नज़रअंदाज कर देता है जिसके कारण उसे काफी नुकसान पहुंचता है । इसलिए मैं यह महसूस करता हूं कि प्रत्येक व्यक्ति को अपनी शादी के तुरन्त बाद प्रत्येक महीने छोटी राशि से ैप्च् खाता खोलना चाहिए । इससे यह सुनिश्चित हो जाता है कि प्रत्येक व्यक्ति के पास पयाप्त जमा पूंजी है जिसके प्रयोग करके वह किसी भी प्रकार की जरूरत को पूरा कर सकता है और कानूनी मुकदमेबाज़ी के मुकदमे को लड़ने के लिए, भरण-पोषण या एकमुश्त रखरखाव की राशि देने के लिए वित्तीय रूप से सक्षम हो, यदि एैसा होता है तो यदि कोई व्यक्ति इतना भाग्यशाली हो सकता है कि उसके खिलाफ कोई मुकदमा न चल रहा हो तो तब यही राशि उसके दूसरे आनंदपूर्ण हनीमून के लिए प्रयोग की जा सकती है । प्रत्यके व्यक्ति इस ैप्च्की राशि को कानूनी मुकदमेबाज़ी के लिए एक बीमे के तौर पर देख सकता है ।

2. पूरी कानूनी कार्यवाही के दौरान या उससे पहले वित्तीय संरचना की बहुत बड़ी भूमिका होती है । यदि व्यक्ति इस पहलू का सही प्रकार से प्रबंधन कर सकता है तो तब वह व्यक्ति बहुत बड़ी राशि बचा सकता है और अपनी पत्नी@बच्चों को बहुत बड़ी राशि अदा करने से स्वयं को बचा सकता है । यही रूप्या स्वयं वित्तीय योजना के लिए, अपने माता-पिता और प्रियजनों के लिए प्रयोग किया जा सकता है । काननूी तौर पर इस हथियार का प्रयोग एक व्यक्ति अपने माता-पिता की सुरक्षा के लिए, ऋण प्रबंधन, सेवानिवृति, भूमि के बंटवारे, बच्चों की पढ़ाई और उनके विवाह के लिए कर सकता है । प्रत्येक व्यक्ति को अपने वैवाहिक सम्बन्धों में उत्पन्न होने वाले विवाद के तुरन्त बाद से ही इस वित्त्तीय संरचना को तैयार करना शुरू कर देना चाहिए । हालांकि एैसी वित्तीय संरचना को तैयार करने में कोई देरी नहीं होती फिर चाहे वह कार्यवाही के दौरान हो ।

3. अलग इकाई गठन के पहलू को भी कार्यवाही से पहले के स्तर के रूप मेें समझा जाये और इस विकल्प को असल मालिक को कड़ी वित्तीय योजना मेहनत के द्वारा जमा की गई पूंजी, निवेश की राशि और एक व्यक्ति के द्वारा अपने जीवनकाल के दौरान अर्जित सम्पत्ति के संरक्षक की तरह सुनिश्चित किया जाये । यह हमारे देश में लागू आयकर के सम्बन्ध में भी प्रभावी और कानून कर की योजना है । यहां यह जानना भी अवश्क है कि एैसी इकाईयां भी हैं जो अपने व्यापार, निवेश और धन को किसी साझेदारी फर्म में साझेदार बन कर भी प्रयोग कर सकते हैं । एैसे वित्तीय योजना चयनित व्यक्ति को वही कर में वही छूट दी जायेगी जो कि हर व्यक्ति को दी जाती है, जैसे कि कर की स्लैब दरें, धारा 80सी, परिवार के सदस्यों के लिए स्वास्थय बीमे का प्रमियम, ब्याज के लिए दावे की वित्तीय योजना राशि की कटौती और अन्य चीजों के साथ-साथ स्वयं द्वारा अर्जित आवासीय सम्पत्ति।

4. यह एक आम कहावत है कि ेजपबी वित्तीय योजना पद जपउम ेंअमे दपदम और यह उन मामलों पर लागू होती है जहां व्यक्ति का समय-निर्धारण उसकी किसमत लिखता है । समय पर की गई वसीयतनामा@या गिफ्ट डीड अनावश्यक विवादों और कानूनी कार्यवाही की प्रक्रिया से बचने के लिए लम्बे समय तक काम आते हैं । वसीयतनामा एक एैसा दस्तावेज़ है जिसके द्वारा एक व्यक्ति अपने जीवनकाल में यह घोषित कर देता है कि उसके मरने के बाद उस वर्तमान और भविष्य में मिलने वाली चल एवं अचल सम्पत्ति उसके द्वारा चयनित किये गये लाभार्थी को मिले न कि किसी अन्य अवांछित व्यक्ति को। इस लेख को पड़ने वाले व्यक्तियों को यह बताना आवश्यक है कि वसीयतनामा इसे निष्पादक के द्वारा उसके जीवनकाल में कभी भी निरस्त एवं रद्य किये जाने वाला दस्तावेज़ है । गिफ्ट डीड एक एैसा दस्तावेज़ है जहां एक सम्पत्ति किसी भी व्यक्ति को स्वेच्छा से उसके वांछित व्यक्ति के हक में हस्तांतरित कर दी जाती है । गिफ्ट ग्रहण करने वाला व्यक्ति अपने जीवनकाल में उस सम्पत्ति को ग्रहण कर सकता है । जैसे ही गिफ्ट डीड निष्पादित कर दी जाती है तो उसके तुरन्त बाद ही उसके पूर्व का स्वामि अपनी सम्पत्ति पर अपना स्वामित्व खो देता है और इसे निरस्त या बदला नहीं जा सकता, जब तक कि कानून मंे एैसा कोई प्रावधान नहीं दिया गया हो ।

किसी भी व्यकित के द्वारा प्रभावी योजना और उसकी व्यक्तिगत आवश्यकतों को उसकी परिस्थितियों, उसके मकसद, जोखिम उठाने की क्षमता, वर्तमान निवेश सूची और उस पर लागू होने वाले अवसर और विकल्पों पर अच्छा प्रभाव डालते हैं ।

अस्वीकरणः उपरोक्त सामान्य लेख केवल जागरूकता के आदेश के लिए तैयार किया गया है और इसके द्वारा लेखक किसी भी प्रकार की गैर कानूनी वित्तीय योजना को तैयार करने का सुझाव नहीं देता है ।

मेरे द्वारा उपरोक्त में मेरे समक्ष आये ज्यादातर प्रश्नों के सम्बन्ध में स्पष्टीकरण दिया गया है। यदि आपको कोई अन्य प्रश्न के बारे में जानना हो जो कि उपरोक्त में वर्णित नहीं की गई हो तो आप इसके बारे में कमैन्ट सैक्शन में या मेरी EMAIL – [email protected] पर पूछ सकते हैं वित्तीय योजना ।

समाज कल्याण विभाग

Image of Celebration of 150 years of Mahatma

यह पृष्ठ हिंदी में उपलब्ध नहीं है, कृपया अंग्रेजी में पढ़ने के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें:

पिछले अद्यतन तिथि :- 05-03-2019

ताज़ा समाचार

  • आबंटन सरकार की स्वचालित प्रणाली। दिल्ली का (ई-अवास)
  • 16.05.2018
  • दिल्ली नगर निगम
  • 20.02.2018
  • दिल्ली नगर निगम (संशोधन) अधिनियम 2011 (2011 का दिल्ली अधिनियम 12)
  • 20.02.2018
  • फोरेंसिक विज्ञान प्रयोगशाला में वॉक-इन-इंटरव्यू
  • 20.02.2018
  • 17 जून से 21 जून 2013 तक फोरेंसिक विज्ञान प्रयोगशाला में वॉक-इन-इंटरव्यू
  • 20.02.2018

उपयोगी वेबसाइट और लिंक

पृष्ठ अंतिम बार अपडेट किया गया: 16-11-2022

  • कुल आगंतुक: 6458808
    0008860 -->

कॉपीराइट © २०१ ९ - - सर्वाधिकार सुरक्षित -समाज कल्याण विभाग की आधिकारिक वेबसाइट, एि.सी.टी की सरकार दिल्ली, भारत | इस वेबसाइट पर सामग्री समाज कल्याण विभाग द्वारा प्रकाशित और प्रबंधित की जाती है |

Goldman Sachs 10,000 Women के साथ, वित्तीय योजना के मूल सिद्धांत

यह मुफ़्त ऑनलाइन प्रोग्राम Goldman Sachs 10,000 Women संग्रह में उपलब्ध 10 पाठ्यक्रमों में से एक है, जो उन उद्यमियों के लिए बनाया गया है जो अपने बिज़नेस या व्यवसाय को अगले स्तर पर ले जाने के लिए तैयार हैं।

इस पाठ्यक्रम में, आप वित्तीय योजना के महत्व को समझेंगे और यह समझेंगे कि यह व्यवसाय के अवसरों का आकलन करने में आपकी मदद कैसे कर सकता है। आप अपनी कंपनी के नकदी प्रवाह चक्र और व्यवसाय की वृद्धि और सफलता पर इसके प्रभाव पर विचार करेंगे।

आप Goldman Sachs 10,000 Women पूर्व छात्रों से नकदी प्रवाह विश्लेषण के लाभों के बारे में सुनेंगे, और उन अभ्यासों का पता लगाएंगे जो आपके नकद वित्तीय योजना प्रवाह पूर्वानुमान को समझने, बनाने और व्याख्या करने में आपका मार्गदर्शन करेंगे।

आप अपने व्यवसाय की नकदी प्रवाह आवश्यकताओं के पूर्वानुमान के लिए ज़रूरी कौशल विकसित करेंगे। पाठ के अंत तक, आप व्यवसाय के अवसरों का मूल्यांकन करने और भविष्य की वित्तीय चुनौतियों की भविष्यवाणी करने में अधिक आत्मविश्वास महसूस करेंगे, ताकि आप अपने व्यवसाय के लिए रणनीतिक निर्णय ले सकें जैसे वह बढ़ता है।

इस पाठ्यक्रम में सभी अभ्यासों को पूरा करने के लिए, आपको अपने व्यवसाय से महत्वपूर्ण वित्तीय जानकारी एकत्र करने की आवश्यकता होगी। यदि आपको अपने व्यवसाय के वित्त को समझने में सहायता की आवश्यकता है, तो आप तैयारी में सहायता के लिए Goldman Sachs 10,000 Women पाठ्यक्रमों में से एक, ‘व्यावसायिक वित्त के मूल सिद्धांत’ को पूरा कर सकते हैं।

10,000 Women पाठ्यक्रम संग्रह वास्तव में एक लचीला ऑनलाइन सीखने का अनुभव प्रदान करता है। आपके पास यह कार्यक्रम का उपयोग करने की स्वतंत्रता है, आप जब जैसे चाहें यह पाठ कर सकते हैं - अपनी व्यक्तिगत व्यावसायिक विकास आवश्यकताओं के लिए अपनी सीखने की यात्रा को तैयार करने के लिए कोई भी पाठ्यक्रम, या पाठ्यक्रमों का संयोजन लें। यदि आप सभी 10 पाठ्यक्रम चुनते हैं, तो आप अपने व्यवसाय के सभी प्रमुख तत्वों का वित्तीय योजना पता लगा पाएंगे और अपने व्यवसाय के विकास के लिए एक संपूर्ण योजना विकसित कर पाएंगे।

आप Goldman Sachs 10,000 Women संग्रह पृष्ठ पर अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं, जहाँ अक्सर पूछे जाने वाले सवालों का जवाब प्रदान किया गया है।

कृपया ध्यान दें, 10,000 Women पाठ्यक्रम संग्रह का अनुवाद लिखित व्यावसायिक हिंदी में किया गया है। यह पाठ्यक्रम अंग्रेजी में भी उपलब्ध है (Fundamentals of Financial Planning, with 10,000 Women Goldman Sachs)

प्रधानमंत्री जन धन योजना (वित्तीय योजना पीएमजेडीवाई)

प्रधानमंत्री जन-धन योजना का उद्देश्य वंचित वर्गो जैसे कमजोर वर्गो और कम आय वर्गो को विभिन्न वित्तीय सेवाएं जैसे मूल बचत बैंक खाते की उपलब्धता, आवश्यकता आधारित ऋण की उपलब्धता, विप्रेषण सुविधा, बीमा तथा पेंशन उपलब्ध कराना सुनिश्चित करना है। किफ़ायती लागत पर व्यापक प्रसार केवल प्रौद्योगिकी के प्रभारी उपयोग से ही संभव है।

पीएमजेडीवाई वित्तीय समावेशन संबंधी राष्ट्रीय मिशन है जिसमें देश के सभी परिवारों के व्यापक वित्तीय समावेशन के लिए एकीकृत दृष्टिकोण शामिल है इस योजना में प्रत्येक परिवार के लिए कम से कम एक मूल बैंकिंग खाता, वित्तीय साक्षारता, ऋण की उपलब्धता, बीमा तथा पेंशन सुविधा सहित सभी बैंकिंग सुविधाएं उपलब्ध कराने की अभिकल्पना की गयी है । इसके अलावा, लाभार्थियों को रूपे डेबिट कार्ड दिया जाएगा जिसमे एक लाख रुपए का दुर्घटना बीमा कवर शामिल है। इस योजना में सभी सरकारी (केन्द्र / राज्य / स्थानीय नीकाय से प्राप्त होने वाले ) लाभो को लाभार्थियों के खातो में प्रणालीकृत किए जाने तथा केन्द्र सरकार की प्रत्यक्ष लाभांतरण (डीबीटी) योजना को आगे बढ़ाने की परिकल्पना की गई है। कमजोर सम्पर्क, ऑनलाइन लेन देन जैसे प्रौद्योगिकीय मामलो का वित्तीय योजना समाधान किया जाएगा। टेलीकॉम आपरेटरों के जरिये मोबाइल बैंकिंग तथा नकद आहरण केन्द्र के रूप में उनके स्थापित केन्द्रो का इस योजना के अंतर्गत वित्तीय समावेशन हेतु प्रयोग किए जाने की योजना है। इसके अलावा, देश के युवाओं को भी इस मिशन पद्धति वाले कार्यक्रम में भाग लेने के लिए प्रेरित करने के प्रयास किए जा रहे हैं।

प्रधानमंत्री जन-धन योजना (पीएमजेडीवाई) राष्ट्रीय वित्तीय समावेशन मिशन है जो वहनीय तरीके से वित्तीय सेवाओं नामतः, बैंकिंग/बचत तथा जमा खाते, विप्रेषण, ऋण, बीमा, पेंशन तक पहुंच सुनिश्चित करता हो।

खाता किसी भी बैंक शाखा अथवा व्यवसाय प्रतिनिधि (बैंक मित्र) आउटलेट में खोला जा सकता है। पीएमजेडीवाई खातों जीरो बैलेंस के साथ खोला जा रहा है। हालांकि, खाता धारक अगर किताब की जांच करना चाहती है, वह / वह न्यूनतम बैलेंस मानदंडों को पूरा करना होगा।

प्रधानमंत्री जन-धन योजना के अंतर्गत खाता खोलने के लिए आवश्यक दस्तावेज

रेटिंग: 4.79
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 405
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *