ब्रोकर ट्रेडिंग इंस्ट्रूमेंट्स

हैंगिंग मैन कैंडलेस्टिक पैटर्न क्या है

हैंगिंग मैन कैंडलेस्टिक पैटर्न क्या है
Evening Star Pattern

Three Outside Up Candlestic पैटर्न क्या है? पूरी जानकारी

आज तक हमने आपको बहुत से कैंडलस्टिक पैटर्न के बारे में बताया और आज भी हम आपको कुछ ऐसे ही एक Candlestick पैटर्न के बारे में बताने वाले हैं, जो कि आपको शेयर मार्केट में ट्रेडिंग करते समय बहुत ज्यादा मदद करेगा, उस कैंडलेस्टिक पेटर्न का नाम है, थ्री आउटसाइड अप कैंडलस्टिक पेटर्न (Three Outside Up Candlestick Pattern), आज तक हमने आपको बहुत से Bullish कैंडलस्टिक पैटर्न के बारे में बताया, उन्हीं में से एक कैंडलेस्टिक पेटर्न यह है, यह जो Candlestick पेटर्न है, यह भी एक रिवर्सल Pattern का ही प्रकार है।

यदि आप इस पैटर्न को अच्छी तरह से समझ लेते हो, तो शेयर मार्केट में ट्रेडिंग करते समय आपके सामने कोई भी समस्या नहीं आएगी, इस Pattern को आप यदि किसी चार्ट में से आसानी से समझ लेते हो या फिर पहचान लेते हो तो आप एक अच्छा मुनाफा सकते हो, यह शेयर मार्केट बाजार की चढ़ती कीमतों को बताता है, यानी बाजार में जब भी तेजी आती है, तो इस Pattern का निर्माण होता है, यदि आप इस समय बाजार में इन्वेस्ट करते हो, तो आप अपने पैसे से बहुत ज्यादा मुनाफा भी कमा सकते हो।

बड़े-बड़े इन्वेस्टर इस Pattern का प्रयोग करके हर दिन एक अच्छा मुनाफा कमाते हैं, तो चलिए दोस्तों आज के आर्टिकल की शुरुआत करते हैं और आपको बताते हैं कि, थ्री आउटसाइड अप कैंडलस्टिक पैटर्न क्या होता है और आप इससे किसी भी चार्ट में किस तरह पहचान सकते हैं और हम आपको यह भी बताएंगे कि, यदि यह Pattern किसी चार्ट के बीच में मना हो, तो आपके लिए यह किस तरह फायदेमंद होगा या फिर यदि यह चार्ट के किसी अन्य एरिया के अंदर बना हो, तो आपके लिए यह किस तरह फायदेमंद होगा, यह सभी जानकारियां आज हम आपको इसी आर्टिकल के अंदर देने वाले हैं।

Three Outside Up Candlestick Pattern क्या है?

यह जो थ्री आउटसाइड अप कैंडलेस्टिक पेटर्न होता है, यह किसी भी ट्रेड के उल्टे होने का आपको संकेत देता है, यानी जब भी कोई ट्रेंड उल्टा होता है, तो इस Pattern का निर्माण होता है, यह पैटर्न या तो सफेद या फिर काले रंग का होता है, यदि इसके तुरंत बाद कोई दो अन्य Candlestick पेटर्न हो, तो यह विपरीत रंग के होकर बनते हैं, यानी इन दोनों के रंग हमेशा उल्टे होंगे, यह पैटर्न मुख्य रूप से Buyer के लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद होता है, जब भी इस पैटर्न का निर्माण किसी भी चार्ट के अंदर होता है, तो बड़े-बड़े इन्वेस्टर इसको देखकर Investment करते हैं।

यह भी माना जाता है कि इस पैटर्न की शुरुआत “Gregory L. Morris” ने की थी इस पैटर्न को एक अन्य दूसरे नाम से भी जाना जाता है जोकि “मॉरिस Engulfing”है यह पैटर्न एक प्रकार से बुल्स कैंडलस्टिक पैटर्न का ही प्रकार है और जब भी यह Pattern मार्केट के अंदर बनता है, तो इसका मतलब होता है कि, अब मंदी का समय समाप्त हो चुका है और अब जल्द ही मार्केट के अंदर तेजी आएगी, यह कैंडलस्टिक पैटर्न मुख्य रूप से तीन Candle से मिलकर बना होता है, जिसमें कि हर एक कैंडल एक अलग चीज को दर्शाती है और मार्केट के अंदर Stock के वैल्यू को भी बताती है।

Three Outside Up Candlestick Pattern के प्रकार

ऊपर हमने आपको बताया कि, यह कैंडलस्टिक पैटर्न क्या होता है और इसकी खोज किसके द्वारा की गई थी, अब हम आपको बताते हैं कि, यह कैंडलस्टिक पैटर्न जो तीन Candle से मिलकर बना होता है, उसमें इन तीन कैंडल का क्या प्रयोग होता है, वह इनके कलर क्या होते हैं जो कि इस प्रकार है:-

  • पहले Candle प्राय छोटी होती है और इसे Small Bearish Candle भी कहा जाता है और इसका कलर लगभग लाल ही होता है।
  • दूसरी Candle हमेशा पहली कैंडल के समानांतर बनी होती है, पर यह Long Bullish कैंडल होती है, जो कि मार्केट में तेजी को दर्शाती है, यह हरे रंग की होती है।
  • जो इसकी तीसरी Candle होती है, वह या तो Small Bullish होगी या फिर Long Bullish Candle होगी, यह इन दोनों में से कौन सी भी हो सकती है, यह भी हरे रंग की होती है।

हमने आपको ऊपर जो भी जानकारी दी, उसके मदद से आप बड़े ही आसानी से किसी भी चार्ट में से इस पैटर्न का पता लगा सकते हैं, क्योंकि हमने आपको हर एक Candle का रंग और आकार बता दिया है, जिसके आधार पर आप इसको आसानी से किसी भी Chart में से पहचान सकते हैं।

Three Outside Up Candlestick Pattern in Chart की बनावट

आपको अब इस Pattern की Candles के बारे में तो पता चल ही गया होगा, अब हम आपको बताते हैं कि, यह पैटर्न बनने के लिए कौन-कौन सी चीजों की आवश्यकता होती है, यह पैटर्न मार्केट में एक लंबे गिरावट के बाद बनता है और इस पैटर्न को बनने के लिए निम्नलिखित चीजों का होना जरूरी है:-

  1. यह Pattern हमेशा किसी भी चार्ट के Bottom में बनता है, जो की मार्केट की एक लंबी मंदी को खत्म करता है।
  2. इस पैटर्न की पहली कैंडल हमेशा Bearish होनी चाहिए।
  3. इस Pattern की दूसरी Candle हमेशा पहली कैंडल के लो प्राइस पर जाकर ओपन होनी चाहिए या फिर कहे कि इसके अंदर Gap डाउन होना चाहिए।
  1. दूसरी Candle का क्लोजिंग पॉइंट, हमेशा पहली कैंडल के हाई प्राइस से के बराबर या फिर उससे ऊपर होना चाहिए, मतलब कि, यह हमेशा मंदी को खत्म करता हुआ दिखाई दे।
  2. इस पैटर्न की तीसरी कैंडल भी Gap डाउन होनी चाहिए, मतलब की, यह दूसरी Candle के बीच से शुरू होनी चाहिए।
  3. इस पैटर्न की तीसरी Candle भी दूसरी कैंडल के High प्राइस से ऊपर होनी चाहिए।

हमने आपको ऊपर बताया कि, इस Pattern को बनने के लिए क्या-क्या चीजों की जरूरत होती है और आप इस पैटर्न को किसी चार्ट के अंदर किन चीजों के द्वारा पहचान सकते हैं, यदि आप हमारे ऊपर दिए गए पॉइंट को ध्यान से पढ़कर, इस Pattern को पहचानोगे और इसके अंदर इन्वेस्ट करोगे, तो आपको निश्चित ही एक अच्छा मुनाफा होगा।

Three Outside Up Candlestick Pattern की मुख्य बातें

अब हम आपको कुछ ऐसी बातें बताते हैं, जोकि आपको इस Pattern को पहचानने में बहुत ज्यादा मदद करेगी, सबसे पहली बात तो यह है कि, जब यह Pattern बनता है, तो इसके तीनों Candle की वॉल्यूम एक दूसरे से बड़ी होनी चाहिए, मतलब यह है कि, दूसरी Candle हमेशा पहली कैंडल की वॉल्यूम से बड़ी होगी और तीसरी कैंडल हमेशा दूसरी ओर पहली कैंडल के Volume से बड़ी होगी, एक यह भी बात होती है कि, इस पैटर्न की दूसरी और तीसरी कैंडल मोरूभुज कैंडलस्टिक पैटर्न के जैसी भी हो सकती है, यह कैंडलेस्टिक पेटर्न हमने आपको पिछले कई आर्टिकल में बताया है, यदि आपने अभी तक वह नहीं पढ़ा, तो आप उनको पढ़कर इस पैटर्न की जानकारी ले सकते हैं।

यह जो Candlestick पेटर्न होता है, यह आपको चार्ट में चार प्रकार से दिखाई दे सकता है, पर यह चार प्रकार एक ही तरह से काम करते हैं, यह आपके मार्केट में तेजी को वापस लाकर देते हैं, यह पैटर्न आपको Daily चार्ट और Intraday चार्ट वा Monthly चार्ट के अंदर दिखाई दे सकता है, यह पैटर्न इन सभी चार्ट के अंदर आपको अच्छी तरह से पहचान में आ सकता है, परंतु यह Pattern सबसे ज्यादा इंट्राडे चार्ट के अंदर बनता है और आपको इंट्राडे के अंदर यह सबसे ज्यादा फायदा देकर जाता है।

यह Pattern जब भी बनता है, तो उसके अगले दिन स्टॉक की वैल्यू Gap up ओपन के साथ खुलती है, तो यह हमारे खरीदारी करने के लिए सबसे उपयुक्त समय माना जाता है, इस समय Buyer की मार्केट के अंदर मजबूती बहुत ज्यादा बढ़ जाती है, यदि आप इस समय शेयर मार्केट के अंदर कोई भी इन्वेस्टमेंट करते हैं, तो आपको भविष्य के अंदर निश्चित ही एक अच्छा मुनाफा देखकर जाएगी और आपकी इन्वेस्टमेंट के अंदर आपको कोई भी नुकसान नहीं होगा।

थ्री आउटसाइड अप कैंडलस्टिक पेटर्न Video से समझे

Also Read-

  • बुलिश एंगलिंग कैंडलस्टिक पैटर्न की पूरी जानकारी
  • द मॉर्निंग स्टार कैंडलेस्टिक पेटर्न की पूरी जानकारी
  • पियर्सिंग कैंडलस्टिक पैटर्न
  • हरामी कैंडलेस्टिक पेटर्न की जानकारी
  • हैंगिंग मैन कैंडलेस्टिक पेटर्न

Conclusion:-

आज के इस आर्टिकल के अंदर हमने आपको Three आउटसाइड अप कैंडलेस्टिक पेटर्न के बारे में सभी जानकारियां दी और यह भी बताया कि, आप किसी भी चार्ट के अंदर इस Pattern को किस प्रकार पहचान सकते हैं, यदि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया हो, तो इसे अपने दोस्तों के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें, कोई भी समस्या आने पर आप हमें कमेंट करके पूछ सकते हैं, हम आपके कॉमेंट का जल्द से जल्द रिप्लाई करने की कोशिश करेंगे।

शेयर मार्केट क्या और कैसे निवेश करे|what is share market

शेयर मार्केट क्या और कैसे निवेश करे|what is share market


share market kya hai
share market

शेयर मार्केट क्या है?

शेयर मार्केट एक ऐसा बिजनेस या जगह है जहां आप अपने बचत के पैसे को मार्केट समय के साथ बढ़ा सकते है। जैसे जैसे मार्केट में बढ़ोतरी होती जायेगी आपके पैसे में भी वैसे वैसे बढ़ोतरी होती रहेगी।

शेयर मार्केट में आप कोई भी कंपनी के शेयर या बोंड को खरीद सकते है हैंगिंग मैन कैंडलेस्टिक पैटर्न क्या है एक तरह से देखा जाए तो आप उस कंपनी के हिस्सेदार(partner) होते है।

अच्छी कंपनी के शेयर को खोज के और उसको खरीद के आप बहुत ही अच्छा पैसा बना सकते है। कई सारे लोग है जिसने शेयर बाजार से करोड़पति बने है।

Hammer Candlestick Pattern क्या है? Hammer Candlestick Pattern in Hindi

अगर आप शेयर बाजार में Trading करते हैं तो आप लोगों को हैमर कैंडलेस्टिक पैटर्न (Hammer Candlestick Pattern) के बारे में जरूर मालूम होगा। इसका इस्तेमाल अधिकांश Share Market में पैसे लगाने वाले लोग किया करते हैं।

ऐसे में अगर आप नहीं जानते हैं कि हैमर कैंडलेस्टिक पैटर्न क्या है और इसका इस्तेमाल कैसे शेयर बाजार में ट्रेडिंग के लिए किया जाता है तो आप इस आर्टिकल Hammer Candlestick Pattern क्या है? (Hammer Candlestick Pattern in Hindi) को अंत तक पढ़कर सभी जानकारी जान सकते है तो आइये जाने।

Table of Contents

Hammer Candlestick Pattern क्या है? (Hammer Candlestick Pattern in Hindi)

Hammer Candlestick एक सिंगल कैंडलेस्टिक पैटर्न है। इसकी उत्पत्ति जापान में हुई थी इसे जापानी कैंडलेस्टिक पैटर्न के नाम से भी जाना जाता है। Trading की दुनिया में हैमर कैंडलेस्टिक पैटर्न का एक अहम स्थान है हैमर कैंडलेस्टिक को Candlestick Bullish Reversal Patterns भी कहा जाता है।

hammer candlestick pattern in hindi

इसका इस्तेमाल सभी Trader करते हैं इसका आकार काफी बड़ा होता है और उसकी बॉडी छोटी होती है लेकिन लेवर शैडो उसकी बॉडी के मुकाबले दुगनी या उससे अधिक भी होती है इसका कोई अपर शैडो नहीं होता है और अगर होता भी है तो उसका आकार काफी छोटा होता है।

Hammer Candlestick Bullish और Bearish भी हो सकता है। हैमर कैंडल Down trade के बाद आता है इसका रंग ग्रीन या रेड हो सकता है अगर हैमर कैंडल एक डाउनट्रेंड के बाद आता है तो उस कैंडल का रंग का कोई महत्व नहीं होता है उसे Bullish ही माना जाता है।

हैमर कैंडल एक ट्रेंड रिवर्सल कैंडल है यह कैंडल दर्शाता है कि मंदी का समय बीत चुका है और तेजी का दौर आने वाला है। हैमर कैंडल में उपस्थित लोगों से जो इस बात का संकेत देता है कि शेयर को बेचने वाला व्यक्ति शेयर के प्राइस को नीचे लेकर आए लेकिन शेयर खरीदने वाला व्यक्ति इसके प्राइस को ऊपर खींच कर ले जाता है।

इसका सीधा मतलब होता है कि बेचने वाले व्यक्ति में इतना दम नहीं है कि वह शेयर के दाम को नीचे लेकर आ सके। Hammer candle जब एक गिरावट के बाद बनता है तो उसे हम लोग Hammer Bullish कहते हैं इसमें कलर का कोई विशेष बात नहीं है इसके विपरीत up trade के बाद हैमर कैंडल बनता है।

तो उसे हम लोग hanging man कहते हैं जब हैमर का रंग हरा होता है तो उसे हम लोग Bullish Hammer कहते हैं जबकि इसका रंग अगर लाल होता है हैंगिंग मैन कैंडलेस्टिक पैटर्न क्या है तो इसे हम लोग हैंगिंग मैन के नाम से जानते हैं Hanging Man की पोजीशन हमेशा ऊपर रहती है और Bullish Hammer की पोजीशन नीचे की तरफ होती है।

Hammer Candle बनने के बाद क्या करें?

Hammer candle बनने के बाद आपको तुरंत शेयर बाजार में stock को खरीदना चाहिए क्योंकि इस समय शेयर बाजार के अधिकांश शेयरों के दाम अपेक्षाकृत कम होते हैं।

Hammer Candle से Trade कैसे करें?

अब आपके मन मे सवाल आएगा कि Hammer Candle शेयर बाजार में Trading कैसे करेंगे तो मैं आपको सलाह दूंगा कि कुछ भी करने से पहले आप अपने Share Market के एक्सपर्ट से जरूर सलाह मशवरा कर ले तभी जाकर आप यहां पर ट्रेडिंग करें नहीं तो आपको फायदे की जगह नुकसान का सामना करना पड़ सकता है।

वैसे तो मैं आपको बता दूं कि अगर Up Trade लंबा शैडो बनेगा तब आप Short Selling कर शेयर बाजार में प्रवेश कर सकते हैं लेकिन इसके साथ आपको Technical analysis भी करना होगा तभी आप को यहां पर मुनाफा मिल पाएगा।

Hammer Candle बनने के पीछे कारण क्या है?

  • जब Market पर खरीदारी करने वाले लोगों का कब्जा हो जाता है तब मार्केट नीचे की तरफ जाता है।
  • जब Market निचे गिर रहा होता है तो प्रत्येक दिन मार्केट नीचे की तरफ जाता है और 1 दिन मार्केट सबसे न्यूनतम पर बंद होता है।
  • जिस किसी दिन एक Hammer बनता है तो उस दिन भी मार्केट नीचे ही ट्रेड करता है और मार्केट नीचे की तरफ बंद होता है।
  • Market नीचे होने के बाद अगर कुछ खरीदारी होती है तो मार्केट में थोड़ा सा उछाल भी आता है।
  • जिस दिन Hammer Candle बनता है उस दिन कीमतों में काफी उतार चढ़ाव होता है क्योकि ये Bullish शेयर के कीमतों को नीचे जाने से रोकता है।
  • Bulls हमेशा मार्किट के मूड को सुधारने में मदद करती है और ऐसे में आपको खरीदारी करनी चाहिए।

इन्हें भी पढ़े –

Hammer Candle के मुताबिक हमें सौदा किस प्रकार करना चाहिए?

Hammer बनने पर निम्नलिखित प्रकार का संकेत आपको प्राप्त होगा जिसका विवरण मैं आपको नीचे दे रहा हूं जो इस प्रकार है।

  • समझदार और स्मार्ट Trader उसी दिन Share खरीदते हैं जिस दिन Hammer की स्थिति उत्पन्न होती हैंगिंग मैन कैंडलेस्टिक पैटर्न क्या है है इसके बाद उन्हें Share को कब बेचना है ये उनके ऊपर निर्भर करता है।
  • रिस्क लेने वाले ट्रेडर हमेशा Hammer Candle की स्थिति बनने पर अधिक मात्रा में शेयर को खरीद कर रख लेते हैं।
  • रिस्क लेने बाला ट्रेडर उसी दिन Hammer के बनने के बाद 3:50 पर ये देखेगा की ओपनिंग और क्लोजिंग दोनों एक बराबर है और दोनों के बीच 2 परसेंट का अंतर है है की नहीं।
  • Hammer में लोअर शैडो की लंबाई रियल बॉडी की लंबाई से दुगनी होनी चाहिए।
  • ऊपर बताए गए कंडीशन को अगर आप पूरा करते हैं तो आप आसानी से trade कर पाएंगे
  • जो ट्रेडर रिस्क से बचना चाहता है तो वो अगले दिन OHLC (Open-high-low-close chart) पर नजर डालेगा और देखेगा की Candle नीले रंग का है की नहीं अगर है तो trade करेगा।
Q. हैमर कैंडल बनने के बाद क्या करे?

Ans – Hammer candle बनने के बाद आपको तुरंत शेयर बाजार में stock को खरीदना चाहिए क्योंकि इस समय Share Market के अधिकांश शेयरों की Price अपेक्षाकृत होते है।

Q. हैमर कैंडल में किन बातों का ध्यान रखना चाहिए?

Ans – समझदार और स्मार्ट Trader उसी दिन Share खरीदते हैं जिस दिन Hammer की स्थिति उत्पन्न होती है इसके बाद उन्हें Share को कब बेचना है ये उनके ऊपर निर्भर करता है। रिस्क लेने वाले ट्रेडर हमेशा Hammer Candle की स्थिति बनने पर अधिक मात्रा में शेयर को खरीद कर रख लेते हैं।

निष्कर्ष –

उम्मीद करता हूँ आपको ये आर्टिकल अच्छा और ज्ञानवर्धक लगा होगा दोस्तों, आप जब भी Share Market में Share को ख़रीदे तो हमेशा Hammer Candle का ध्यान रखे हैमर कैंडल बनने के बाद आप तुरंत शेयर को खरीद सकते है क्यूंकि इस समय Shares की कीमत कम होती है। अगर आपको ये आर्टिकल से आपको जरा सा भी जानकारी मिली है है तो इसे आप अपने दोस्तों,सग्गे सम्बन्धियों के साथ साथ सोशल मीडिया साइट्स पर भी जरूर शेयर करें धन्यवाद!

4 Types of candlestick pattern in hindi

Types of candlestick pattern in hindi

4 Types of candlestick pattern in hindi

Candlestick pattern में सबसे पहले हम समझेंगे की कैंडल स्टिक होती क्या है तो कैंडल स्टिक एक कैंडल होती है जिसमें उसका ओपन प्राइज होता है क्लोज प्राइस होता है हाई होता है और इसी के साथ लोएस्ट प्राइस होता है

अगर आप शेयर बाजार में हर रोज अपना पैसा कमाना चाहते हैं तो आपको कैंडलेस्टिक पेटर्न जरूर समझने चाहिए क्योंकि कैंडलेस्टिक पेटर्न की मदद से आप शेयर के प्राइस का पता लगा पाएंगे कि कब ऊपर जाएगा और कब नीचे जाएगा बस इसको आप को समझने की और ज्यादा प्रैक्टिस करने की जरूरत है

अगर हम बात करें कैंडल स्टिक के बारे में तो कैंडल स्टिक कई टाइप की होती हैं लेकिन आज हम यहां पर जो ज्यादातर यूज होने वाली कैंडल्स है उनके बारे में बात करेंगे जो चार्ट में अक्सर देखी जाती हैं उन कैंडल स्टिक के बारे में हम बात करेंग

तो यहां पर हमने 4 types of candlestick pattern in hindi के बारे में बताया है

Bullish engulfing Candle

Bullish इन गल्फ कैंडल के अंदर जब प्रीवियस लाल (Red) कैंडल को हरा (Green) कैंडल पूरा इन गल्फ कर जाए यानी पूरी कैंडल को खा जाती है तब हम उसे Bullish इन गल्फ कैंडल कहते हैं जैसे कि नीचे आप देख सकते हैं एक लाल कलर की कैंडल है उसके बराबर हैंगिंग मैन कैंडलेस्टिक पैटर्न क्या है में एक हरे कलर की कैंडल बनी है जो लाल कैंडल को पूरी तरीके से खा गई है तो हम इसे Bullish Engulfing कैंडल कहेंगे

Chart में कैसे पता करें

अगर मान लो किसी भी Chart में कोई भी शेयर का प्राइस नीचे गिर रहा है और उस शेयर की पीछे से कोई सपोर्ट है तो अगर वहां पर कोई लाल कैंडल बनती है फिर उसको एक हरी कैंडल पूरा खा जाती है तो वहां से chances है कि शेयर का प्राइस गिरना बंद हो जाएगा और फिर वह ऊपर की ओर चलना शुरू हो जाए इसको हम Trend Reversal भी कहेंगे क्योंकि जो शेयर लगातार गिर रहा था फिर एक लेवल पर उसने सपोर्ट ली और एक Bullish engulfing कैंडल बनाई और फिर अपना Trend रिवर्स कर दिया और प्राइस ऊपर की ओर चलने लगा

Bearish engulfing Candle

Bearish engulf कैंडल के अंदर प्रीवियस ग्रीन कैंडल को लाल कैंडल पूरा engulf कर जाए यानी पूरी कैंडल को खा जाए तब हम उसे Bearish engulf कैंडल कहते हैं जैसे कि आप नीचे देख सकते हैं एक हरे कलर की कैंडल है उसके बराबर में एक लाल कलर की कैंडल बनी है जो हरे कैंडल को पूरी तरीके से खा गई है तो हम इसे Bearish engulfing कैंडल कहेंगे

Bearish engulfing Candle

Chart मैं कैसे पता करें

अगर कोई भी Chart में कोई भी शेयर का प्राइस ऊपर जा रहा है और ऊपर कोई रुकावट है तो अगर वहां पर कोई हरि कैंडल बनती है फिर उसको एक लाल कैंडल पूरी तरह खा जाती है तो वहां से chances हैं कि शेयर का प्राइस ऊपर जाना बंद हो जाएगा और फिर वह नीचे की चाल चलना शुरू हो जाए और इसको हम trend reversal कहेंगे क्योंकि जो शेयर लगातार ऊपर जा रहा था फिर एक लेवल पर उसने रजिस्टेंस face किया जिससे वहां पर एक bearish engulfing candle बनी और फिर अपना trend रिवर्स हो गया तो और प्राइस भी नीचे की ओर आने लगा

Morning Star Pattern

मॉर्निंग स्टार पैटर्न तीन कैंडलस्टिक से बना एक दृश्य पैटर्न है यह पैटर्न जब बनता है जब कोई शेयर काफी लंबे समय से नीचे की ओर गिर रहा हो या नीचे आ रहा हो फिर एक जगह आकर मॉर्निंग स्टार पेटर्न बना देता है तो वहां से ज्यादा संभावना है कि वह नीचे की चाल बंद करके अब ऊपर की ओर चाल चलना शुरु कर देगा

Morning Star Pattern

Chart मैं कैसे पता करें

अगर चार्ट में कोई भी शेयर का प्राइस नीचे की ओर गिर रहा है लगातार काफी लंबे समय से तो उसके बाद एक समय पर आकर एक रेड कैंडल बनती है उसके बाद एक Doji टाइप की कैंडल बनती है फिर एक काफी अच्छी रेड कैंडल बनती है यह तीन कैंडल के कॉन्बिनेशन को हम मॉर्निंग स्टार पैटर्न कहते हैं यहां से ज्यादा चांसेस होते हैं कि अब ट्रेंड रिवर्स हो जाएगा यानी जो लंबे समय से नीचे की ओर शेयर गिर रहा था वह अब यहां से ट्रेंड अपना रिवर्स कर देगा और ऊपर की चाल चलना शुरू कर देगा

Evening Star Pattern

इवनिंग स्टार पैटर्न तीन कैंडल स्टिक से मिलकर बनता है यह पैटर्न जब बनता है जब कोई शेयर काफी लंबे समय से ऊपर की चाल चल रहा हो और फिर कोई ऐसी जगह जहां वह एक अच्छी ग्रीन कैंडल बनाने के बाद एक हैंगिंग मैन टाइपिंग कैंडल बनाता है फिर उसके बाद अगली कैंडल एक काफी अच्छी रेड कैंडल बना देता है जिसको हम इवनिंग स्टार पेटर्न कहते हैं

Evening Star Pattern

Chart मैं कैसे पता करें

अगर चार्ट में कोई भी शेयर का प्राइस लगातार ऊपर ऊपर जा रहा है फिर एक समय पर उसमें एक अच्छी ग्रीन कैंडल के बाद एक हैंगिंग मैन टाइप की कैंडल बनती है और उससे अगले कैंडल एक अच्छी रेड कैंडल बन जाती है तो इसको हम कह सकते हैं कि यह इवनिंग स्टार पेटर्न बन गया है और अब यहां से ज्यादातर चांसेस हैं कि जो शेयर लगातार ऊपर जा रहा था वह वहां रुक गया है और वहां से अपना ट्रेंड को रिवर्स कर रहा है यानी अब अपनी चाल नीचे की ओर चल रहा है

डिमैट अकाउंट क्या होता है?

डिमैट अकाउंट एक ऐसा हैंगिंग मैन कैंडलेस्टिक पैटर्न क्या है ही अकाउंट होता है जिसके जरिए हम शेयर को खरीद और बेच सकते हैं तथा इसको लिंक बैंक से किया जाता है जिसमें हम पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं अगर आप भी चाहते हैं शेयर बाजार में निवेश करना तो नीचे दी हुई लिंक पर क्लिक करके फ्री में अपना डिमैट अकाउंट खोलें यह भारत का बेस्ट ब्रोकर है

व्यापार के लिए तैयार हैं? पहले कैंडलस्टिक पैटर्न के बारे में जानें!

एक तकनीकी उपकरण होने के नाते,मोमबत्ती चार्ट अलग-अलग समय सीमा से डेटा को एक मूल्य बार में पैक करने के लिए होते हैं। यह तकनीक उन्हें पारंपरिक लो-क्लोज़ और ओपन-हाई बार की तुलना में अधिक प्रभावी बनाती है; या यहां तक कि साधारण रेखाएं जो अलग-अलग बिंदुओं को जोड़ती हैं।

मोमबत्तियां उन पैटर्नों के निर्माण के लिए प्रसिद्ध हैं जो कीमत की दिशा का अनुमान लगाते हैं। पर्याप्त रंग कोडिंग के साथ, आप तकनीकी उपकरण में गहराई जोड़ सकते हैं। 18वीं शताब्दी में कहीं न कहीं जापानी प्रवृत्ति के रूप में जो शुरू हुआ वह स्टॉक का एक अभिन्न अंग बन गया हैमंडी शस्त्रागार

Candlestick patterns

इसे ध्यान में रखते हुए, इस पोस्ट में, कैंडलस्टिक पैटर्न के बारे में और जानें कि वे स्टॉक रीडिंग में कैसे उपयोगी हो सकते हैं।

कैंडलस्टिक क्या है?

एक कैंडलस्टिक किसी परिसंपत्ति के मूल्य आंदोलन के बारे में जानकारी प्रदर्शित करने का एक महत्वपूर्ण तरीका है। ये चार्ट के सुलभ घटक हैंतकनीकी विश्लेषण, व्यापारियों को कुछ बार से तुरंत मूल्य की जानकारी समझने की अनुमति देता है।

प्रत्येक कैंडलस्टिक में तीन बुनियादी विशेषताएं होती हैं, जैसे:

  • शरीर: ओपन-टू-क्लोज़ का प्रतिनिधित्व करनाश्रेणी
  • बाती (छाया): इंट्रा-डे लो और हाई का संकेत
  • रंग: बाजार की गतिविधियों की दिशा का खुलासा

समय के साथ, व्यक्तिगत कैंडलस्टिक्स ऐसे पैटर्न बनाते हैं जिनका उल्लेख व्यापारी काफी प्रतिरोध और समर्थन स्तरों को पहचानते हुए कर सकते हैं। बाजार के भीतर अवसरों का संकेत देने वाली विभिन्न प्रकार की कैंडलस्टिक पैटर्न चीट शीट हैं।

जबकि कुछ पैटर्न बाजार के अनिर्णय या पैटर्न में स्थिरता की पहचान करने में मदद करते हैं, कुछ अन्य बिक्री और खरीद दबाव के बीच संतुलन में अंतर्दृष्टि प्रदान करते हैं।

पैटर्न को परिभाषित करना

कुछ बेहतरीन कैंडलस्टिक पैटर्न के साथ, आप ट्रेडिंग इंडेक्स या स्टॉक की चार प्राथमिक कीमतों की पहचान कर सकते हैं, जैसे:

  • खुला हुआ: यह पहली कीमत का प्रतिनिधित्व करता है जिस पर बाजार खुलने पर व्यापार का निष्पादन होता है।
  • उच्च: दिन के दौरान, यह उच्चतम मूल्य का प्रतिनिधित्व करता है जिस पर एक व्यापार निष्पादित किया जा सकता है।
  • कम: दिन के दौरान, यह उस न्यूनतम कीमत का प्रतिनिधित्व करता है जिस पर किसी व्यापार को निष्पादित किया जा सकता है।
  • बंद करे: यह उस अंतिम कीमत को दर्शाता है जिस पर बाजार बंद है।

आम तौर पर, बाजार के मंदी और तेजी के व्यवहार का प्रतिनिधित्व करने हैंगिंग मैन कैंडलेस्टिक पैटर्न क्या है के लिए विभिन्न रंगों का उपयोग किया जाता है। ये रंग मूल रूप से एक चार्ट से चार्ट में भिन्न होते हैं।

बेयरिश कैंडलस्टिक पैटर्न

एक मंदी के पैटर्न की संरचना में तीन अलग-अलग पहलू होते हैं, जैसे:

  • शरीर: केंद्रीय निकाय क्लोजिंग और ओपनिंग प्राइस को दर्शाने के लिए है। एक मंदी की मोमबत्ती में, शुरुआती कीमत हमेशा बंद कीमत से अधिक होती है।
  • सिर: ऊपरी छाया के रूप में भी जाना जाता है, मोमबत्ती का सिर उद्घाटन और उच्च कीमत को जोड़ने के लिए होता है।
  • पूंछ: निचली छाया के रूप में भी जाना जाता है, एक मोमबत्ती की पूंछ समापन और कम कीमत को जोड़ने के लिए होती है।

बुलिश कैंडलस्टिक पैटर्न

इसकी संरचना में तीन पहलू भी शामिल हैं:

  • शरीर: हालांकि यह क्लोजिंग और ओपनिंग प्राइस का प्रतिनिधित्व करता है; हालांकि, मंदी के पैटर्न के विपरीत, तेजी में, शरीर की शुरुआती कीमत हमेशा बंद कीमत से कम होती है।
  • सिर: यह समापन और उच्च कीमत को जोड़ने के लिए जिम्मेदार है।
  • पूंछ: यह उद्घाटन और कम कीमत को जोड़ने के लिए जिम्मेदार है।

candlestick patterns

कैंडलस्टिक पैटर्न के प्रकार

इन पैटर्नों को वर्गीकृत करने के दो अलग-अलग तरीके हैं, जैसे:

सिंगल कैंडलस्टिक पैटर्न

इसमें, मोमबत्तियां या तो एकल या एकाधिक हो सकती हैं, जो एक विशिष्ट पैटर्न बनाती हैं। वे एक मिनट से लेकर घंटों, दिनों, हफ्तों, महीनों और वर्षों तक होते हैं। समय सीमा जितनी बड़ी होगी, आगामी चालों और रुझानों के बारे में उतनी ही अधिक जानकारी होगी। कुछ सबसे महत्वपूर्ण एकल कैंडलस्टिक पैटर्न में शामिल हैं:

  • मारुबोज़ु (बुलिश मारुबोज़ु और बेयरिश मारुबोज़ु)
  • पेपर अम्ब्रेला (हैमर और हैंगिंग मैन)
  • उल्का
  • दोजिक
  • स्पिनिंग टॉप

एकाधिक कैंडलस्टिक पैटर्न

इस पैटर्न में, हमेशा दो या दो से अधिक मोमबत्तियां होती हैं जो ट्रेडिंग स्टॉक का व्यवहार बनाती हैं। कई प्रकार के पैटर्न हैं जिनका उपयोग कई व्यापारिक व्यवहारों को इंगित करने के लिए किया जाता है:

  • एनगल्फिंग पैटर्न (बुलिश एनगल्फिंग और बेयरिश एनगल्फिंग)
  • भेदी पैटर्न आवरण
  • हरामी पैटर्न (बुलिश हरामी और बेयरिश हरामी)
  • सुबह का तारा
  • शाम का सितारा
  • तीन श्वेत सैनिक
  • तीन काले कौवे

कैंडलस्टिक पैटर्न का उपयोग करने से पहले ध्यान रखने योग्य बातें

  • किसी भी ट्रेंड रिवर्सल कैंडलस्टिक पैटर्न का पालन करते समय, सुनिश्चित करें कि आप पिछले रुझानों पर नजर रखें।
  • जोखिम लेने की आपकी क्षमता के आधार पर, या तो उसी दिशा में प्रदर्शित होने वाली दूसरी कैंडलस्टिक की प्रतीक्षा करें या पैटर्न निर्माण के पूरा होने के ठीक बाद ट्रेड करें।
  • वॉल्यूम की निगरानी करते रहें, यदि पैटर्न में वॉल्यूम कम है, तो अपना ट्रेड करने से पहले कुछ समय प्रतीक्षा करें।
  • एक सख्त स्टॉप-लॉस रखें और जैसे ही ऐसा होता है, ट्रेड से बाहर निकल जाएं
  • किसी भी कैंडलस्टिक पैटर्न का आँख बंद करके पालन न करें। साथ-साथ अन्य संकेतकों का भी जिक्र करते रहें।
  • एक बार जब आप किसी व्यापार में प्रवेश कर लेते हैं, तो थोड़ा धैर्य रखें और उसे ठीक करने से बचें।

निष्कर्ष

कैंडलस्टिक चार्ट पैटर्न की समझ निश्चित रूप से एक लंबा सफर तय कर चुकी है। हालाँकि, आप जिस चार्ट का अध्ययन कर रहे हैं, उसकी सटीकता लगातार अध्ययन, बारीक बिंदुओं के ज्ञान, लंबे अनुभव और मौलिक और तकनीकी दोनों पहलुओं की समझ पर निर्भर करती है। इसलिए, जबकि ऐसे कई पैटर्न हैं जिन्हें पाया जा सकता है, लाभ प्राप्त करने के लिए उपयुक्त विश्लेषण और अभ्यास की आवश्यकता होती है।

रेटिंग: 4.53
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 280
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *