ब्रोकर ट्रेडिंग इंस्ट्रूमेंट्स

व्यापारियों की समस्याओं का हो निदान

व्यापारियों की समस्याओं का हो निदान
सीएम के निर्देश से व्‍यापारियों को मिलेगी राहत

जलभराव की समस्या का निदान करने को लेकर राज्य आंदोलनकारी दीपक बाली ने नगर निगम से की मांग

काशीपुर (सुनील शर्मा) काशीपुर। आप नेता एवं राज्य आंदोलनकारी दीपक बाली ने नगर निगम से मांग की है कि वह समय रहते जलभराव की समस्या का निदान करे ताकि आने वाले बरसात के मौसम में शहर के व्यापारियों के साथ-साथ आम जनता को जलभराव से होने वाली करोड़ों रुपए की क्षति से बचाया जा सके ।उन्होंने नगर व्यापारियों की समस्याओं का हो निदान निगम से यह भी मांग की है कि कोरोना कर्फ्यू के चलते दुकानदार बर्बादी के कगार पर आ गए हैं इसलिए नगर निगम अपनी दुकानों के किराए दार दुकानदारों के किराए के साथ-साथ दूसरे दुकानदारों से लिया जाने वाला टैक्स माफ करे। आप नेता बाली ने कहा है कि पिछले लॉकडाउन से बर्बाद हुए दुकानदार अभी संभल भी नहीं पाए थे कि इस बार के करोना कर्फ्यू ने उनकी और कमर तोड़ दी है । बेचारे दुकानदार नगर निगम सहित अन्य सरकारी टैक्स तथा दुकानों का किराया कहां से दे? इनके खुद के सामने तो अपने घर परिवार के व्यापारियों की समस्याओं का हो निदान व्यापारियों की समस्याओं का हो निदान जीवन यापन का ही बहुत बडा संकट खडा हो गया है ।ऊपर से दो दिन की भारी बारिश हमे अभी से सावधान कर भविष्य के प्रति चेता गयी है। इस बारिश से हुए भंयकर जलभराव से दुकानदार अभी से भयभीत हैं, क्योंकि लंबे समय से वर्षा ऋतु में हर वर्ष काशीपुर शहर के दुकानदार जलभराव होने से दुकानों में घुसे पानी से करोड़ों रुपए के नुकसान की असहनीय पीड़ा झेलते आ व्यापारियों की समस्याओं का हो निदान रहे हैं। आम जनता को भी घरों में गंदापानी भरने से काफी परेशानियां होती हैं और घरेलू सामान खराब होने की भारी क्षति उठानी पड़ती हैं । भला व्यापारियों की समस्याओं का हो निदान जो नगर निगम व्यापारियों व जनता से हाऊस टैक्स व किराया वसूलती है उसकी जिम्मेदारी बनती है कि वह शहर की सबसे ज्वलंत जलभराव की समस्या का समाधान करें ।अभी बरसात आने में समय है लिहाजा नगर निगम समय रहते जलभराव न होने के पुख्ता कदम उठाएं और बाद में जलभराव हो तो कोई बहाने बाजी ना करें, या फिर पीड़ित दुकानदारों व जनता को जलभराव से हुई क्षति का मुआवजा दे । बाली ने कहा कि मेयर साहिबा नगर निगम की मुखिया हैं ,और जनता द्वारा चुनी हुई जनप्रतिनिधि हैं ।ऐसे में जलभराव से होने वाली क्षति की भरपाई कराने हेतु वें जनता के प्रति पूरी तरह उत्तरदाई हैं। बाली ने आश्चर्य व्यापारियों की समस्याओं का हो निदान जताया कि एक बार चेयरमैन और दो-दो बार मेयर चुने जाने के बावजूद मेयर साहिबा पता नहीं क्यों शहर की जलभराव की प्रमुख समस्या का तक कोई समाधान नहीं करा पाई? सांसद से लेकर केंद्र व प्रदेश सरकार और मेयर सहित काशीपुर में आज पांच-पांच इंजनों की सरकार है फिर भी लोग ज्वलंत समस्याओं से जूझ रहे हैं। बीते नगर निगम चुनाव के दौरान प्रदेश के तत्कालीन मुख्यमंत्री ने काशीपुर की मेयर सीट जिताने के लिए दिन रात एक कर दिया था। उन्होंने काशीपुर की जनता से अनेक लोकलुभावन वायदे भी किए थे। अब भले ही प्रदेश के मुख्यमंत्री का चेहरा बदल गया हो ,सरकार तो भाजपा की ही है। पूछता है काशीपुर कि मुख्यमंत्री और भाजपा की चुनावी लाज बचा कर भी आज काशीपुर की जनता क्यों ज्वलंत समस्याओं से जूझ रही है? बंद पड़ी दुकानों तथा दुकानदारों के घरों का बिजली का बिल सहित तमाम सरकारी टैक्स माफ कराने के लिए मेयर साहिबा को अपनी सरकार मैं दस्तक देनी चाहिए ।अपनी पांच -पांच इंजनों की सरकार के होते हुए भी यदि वे अपने शहर की जनता की ज्वलंत समस्याओं का समाधान और दुखी व्यापारियों को राहत नहीं दिला सकती तो फिर परेशान व्यापारी और जनता क्या समझे ? इस बार जलभराव होने से व्यापारियों और आम जनता को कोई भी क्षति होती है तो उसके लिए नगर निगम और महापौर ही जिम्मेदार होगें।

व्यापारियों की समस्याओ के लेकर व्यापार बन्धु की हुई बैठक

इटावा। व्यापारियों की समस्याओं के निदान के लिये शासन के निर्देश पर व्यापार बन्धु की बैठक अपर जिलाधिकारी जय प्रकाश की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। बैठक का संचालन करते उपायुक्त प्रशासन राज्य कर विभाग धीरज कुमार राय ने पिछली बैठक की आई समस्याओ के निस्तारण के वारे में सदन को अवगत कराया। अपर जिलाधिकारी जय प्रकाश ने कहा व्यापारियों की समस्याओ का निस्तारण सभी विभाग प्राथमिकता से करे किसी भी प्रकार की हीलाहवाली बर्दाश्त नही की जाएगी। उधोग व्यापार प्रतिनिधि मण्डल उ.प्र.के जिलाध्यक्ष आलोक दीक्षित ने कहा शहर में अधिकांश स्थानों पर जलभराव की समस्या आ रही है जिससे व्यापार प्रभावित हो रहा है उन स्थानों पर रेन वाटर हार्डवेटिंग सिस्टम लगाया जाए। जिला महामंत्री आकाशदीप जैन ने कहा विधुत विभाग मनमाने ढंग से व्यापारियों का उत्पीड़न कर रहा है मीटर का अनावश्यक रूप से लोड बड़ा रहा है उसे रोका जाये। उधोग मंच अध्यक्ष भारतेंद्र नाथ भारद्वाज ने कहा पालिका द्रारा बिछाई सीवर लाइन चालू की जाये जिससे आम जनता को लाभ मिल सके। बैठक में उप श्रम आयुक्त, उपायुक्त उधोग विभाग, विधुत विभाग, वाट माप अधिकारी सहित व्यापारी नेता क़ामिल कुरैशी, शहनशाह वारिसी, शीबू तौकीर, कफ़ील खान आदि मौजूद रहे।

व्‍यापारियों की समस्‍याओं को लेकर CM योगी का सख्त निर्देश, DM और SSP जिले स्‍तर पर ही करें निपटारा

CM Yogi Instruction: उत्‍तर प्रदेश कपड़ा उद्योग व्‍यापार प्रतिनिधि मंडल के प्रदेश अध्‍यक्ष अशोक मोतियानी ने बताया कि मैं अपने व्‍यापार मंडल की ओर से दिल से मुख्‍यमंत्री जी का धन्‍यवाद देता हूं जिन्‍होंने व्‍यापारियों की परेशानियों पर ध्‍यान देते हुए अधिकारियों को सुनवाई के निर्देश दिए।

yOGI aDITYANATH

लखनऊ। प्रदेश के सभी जनपदों में अब जिलाधिकारी और एसएसपी व्‍यापारियों की समस्‍याओं का निस्‍तारण जनपद स्‍तर पर करेंगे। माह में एक दिन निर्धारित कर व्‍यापार मंडल उद्योग प्रतिनिधियों के साथ संवाद कार्यक्रम किया जाएगा। व्यापारियों की समस्याओं का हो निदान जिसके तहत जिले स्‍तर पर ही बड़े व छोटे सभी व्‍यापारियों की समस्‍याओं की सुनवाई करते हुए त्‍वरित निस्‍तारण किया जाएगा। मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने मंगलवार को बैठक में आला अधिकारियों से कहा कि जल्‍द से जल्‍द इस पर अमल किया जाए। उन्‍होंने कहा कि प्रदेश के सभी जिलाधिकारी और पुलिस कप्‍तान माह में एक दिन व्‍यापार मंडल उद्योग प्रतिनिधियों के साथ संवाद कार्यक्रम करेंगे। इस संवाद कार्यक्रम के लिए माह में एक दिन को सुनिश्चित करते हुए व्‍यापारियों की जरूरतों का मेरिट के आधार पर त्‍वरित समाधान किया जाए।

समस्याओं के खिलाफ व्यापारियों ने किया प्रदर्शन

गाजियाबाद। उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार मंडल पदाधिकारियों ने समस्याओं के खिलाफ कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया।(ghaziabad latest news) प्रदर्शन कर रहे व्यापारियों ने कहा कि व्यापारियों की समस्याओं के निदान की तरफ कोई भी संबंधित अधिकारी ध्यान नहीं दे रहा है, जिससे निरंतर समस्याएं गहराती जा रही हैं। व्यापार मंडल के मुख्य संरक्षक अजय गुप्ता ने इस मौके पर बताया कि सरकारी अधिकारी व्यापारियों का शोषण कर रहे हैं और जब व्यापारी उक्त व्यापारियों की समस्याओं का हो निदान के विरोध में आवाज बुलंद करता है तो उसके साथ अमानवीय व्यवाहर किया जाता है। चाहे बिजली की समस्या हो या फिर मध्यमवर्गीय औद्योगिक इकाईयों में भी समस्याओं का अंबार लगा हुआ है। व्यापारियों ने अपनी मांगों के संबंध में एक प्रार्थना पत्र जिला प्रशासन को भी सौंपा है। ज्ञापन सौंपने वालों में प्रेमचंद गुप्ता, शिवशंकर राठी, नीरज गोयल, प्रीतम लाल, राजकिशोर गुप्ता, सुभाष छाबड़ा, सौरभ जायसवाल, मनवीर नागर आदि प्रमुख थे।

Leave a Reply

You must be logged in to post a comment.

क्या दीन दयाल अंत्योदय योजना में होने वाला है दलालों के गैंग का खुलासा

कविनगर रामलीला के रावण का दहन करेंगे जनरल वीके सिंह

तीन साल से जीडीए के बाबू एक ही सीट पर जमे हुए थे अटल

Action Hero – Trailer

जब बरेली विकास प्राधिकरण के वीसी ने की गाजियाबाद के डीएम आरके सिंह की खुलकर तारीफ

विक्रम वेधा के बाद पुष्कर गायत्री ला व्यापारियों की समस्याओं का हो निदान रहे क्राइम सीरीज, प्राइम वीडियो पर इस दिन होगी रिलीज

वाराणसी : लकड़ी व्यापारियों की अभद्रता से नाराज डोम राजा परिवार ने रोका मणिकर्णिका महश्मशान पर दाह संस्कार

Zv

वाराणसी। मणिकर्णिका महश्मशान पर सोमवार की सुबह डोम राजा परिवार ने शवदाह का कार्य रोक दिया। डोम राजा परिवार के अनुसार आये दिन लकड़ी व्यापारी उनसे और उनके लोगों के साथ अभद्र व्यहवहार करते हैं। शवदाह के स्थान पर लकड़ियां रख देते हैं। ऐसे में व्यापारियों की समस्याओं का हो निदान जब तक हमारी समस्या का निदान नहीं होगा हम शवदाह नहीं करेंगे। वहीं इस सूचना व्यापारियों की समस्याओं का हो निदान पर तुरंत इंस्पेक्टर चौक मणिकर्णिका पहुंचे और परिवार के सदस्यों से बात कर उन्हें समझाया और समस्या के समाधान का आश्वासन दिया जिसके बाद दोपहर एक बजे के बाद शवदाह प्रारम्भ हुआ।

इस सम्बन्ध में डोमराजा परिवार के सदस्य शालू चौधरी ने बताया कि मणिकर्णिका घाट पर लकड़ी विक्रेता और स्थानीय दबंग मनमानी करते हैं। हमारे आदमियों के साथ अभद्रता हो रही है। शवदाह के स्थान पर लकड़ी रख कब्जा कर लिया गया है इसलिए समस्या हो रही है। ऐसे में हम सभी ने निर्णय किया है कि हम शवदाह नहीं करेंगे जब तक की समस्या का स्थायी समाधान नहीं होता।

रेटिंग: 4.39
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 491
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *